अब ट्रेन में सामान चोरी होने पर यात्री एप के जरिए भी दर्ज करा सकेंगे शिकायत

Views : 1734  |  3 minutes read
Railway-Complaint-App

भारतीय रेलवे यात्रियों के सामान की चोरी की शिकायत करने के तरीके को और आसान बनाने की तैयारी कर रहा है। रेलवे की नई सुविधा के तहत यात्री अब चलती ट्रेन में ही सामान चोरी और स्नैचिंग की वारदात होने पर एप के जरिए एफआईआर दर्ज करा सकेंगे। यात्री रेलवे द्वारा तैयार किए गए मोबाइल एप की सुविधा का जल्द ही फायदा उठा सकेंगे। इस एप को आने वाले दिनों में गूगल प्ले स्टोर और बाकी एप स्टोर पर डाला जाएगा, जिसके बाद यात्री इसे अपने स्मार्टफोन में डाउनलोड कर जरूरत के समय शिकायत दर्ज करने के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे।

जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त रूप से तैयार किया एप

आरपीएफ के महानिदेशक अरुण कुमार ने शुक्रवार दोपहर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त रूप से एप डिजाइन किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण उसे अभी तक लॉन्च नहीं किया जा सका है। जल्द ही इस एप को लांच किया जाएगा। कुमार ने कहा कि इस कॉमन रेलवे सिक्योरिटी एप के जरिए यात्री अपने चोरी हुए किसी सामान या कोई घटना की सफर के दौरान ही ऑनलाइन रिपोर्ट दर्ज करवा सकेंगे। इसके अलावा एप में मौका-ए-वारदात पर पीड़ित पक्ष के बयान और सहयात्रियों के बयान दर्ज करने की सुविधा भी होगी। इसके आधार पर रेलवे सुरक्षा बल अपनी आवश्यक कार्रवाई जल्द शुरू कर सकेंगे।

एप के जरिए हर दिन की अपडेट भी हासिल कर सकेंगे यात्री

आरपीएफ डीजी अरुण कुमार बताया कि एप के जरिए रिपोर्ट दर्ज होने के बाद यात्री को पुलिस थाने के चक्कर नहीं काटना होंगे। यात्री ऑनलाइन रिपोर्ट दर्ज कर ही अपने घर जा सकेंगे। यात्री इस एप के जरिए मामले में हर दिन की प्रोग्रेस रिपोर्ट की अपडेट भी हासिल कर सकेंगे। उन्होंने बताया कि यात्रियों की मदद के लिए तैयार किया गया ये मोबाइल एप रेलवे स्टाफ के अलावा आरपीएफ और जीआरपी के कर्मियों के पास भी होगा। ये लोग भी अपने मोबाइल से यात्रियों की ऑनलाइन रिपोर्ट दर्ज कर सकेंगे। कुमार ने आगे कहा कि आरपीएफ के ‘मेरी सहेली’ प्रोजेक्ट को बल मिला है, जिसमें अकेले यात्रा करने वाली महिला यात्रियों की आरक्षण चार्ट से पहचान करके ट्रेन में तैनात महिला कांस्टेबल उनसे सीट पर जा कर संपर्क करती हैं और उन्हें अपना नंबर दे कर सुरक्षा का आश्वासन देती हैं।

Read More: गर्भवती महिलाओं को कोरोना टीका लगाने की तैयारी कर रही केंद्र सरकार

COMMENT