महाराष्ट्र की सियासत में रातोंरात बड़ा उलटफेर, फडणवीस सीएम और एनसीपी के अजित पवार बने डिप्टी सीएम

Views : 1124  |  0 minutes read
Maharashtra-New-CM-Governor-and-Deputy-CM

महाराष्ट्र की राजनीति ने शनिवार सुबह को सबसे चौंकाने वाली तस्वीर सबसे सामने ला कर रख दी। बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस ने लगातार दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। प्रदेश के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। वहीं, एनसीपी नेता और शरद पवार के भतीजे अजित पवार को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई गई। हाल में 12 नवंबर को महाराष्ट्र में लागू हुआ राष्ट्रपति शासन शनिवार तड़के 5:47 बजे हटा दिया गया। इसके बाद सुबह 8:15 बजे देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने शपथ ले ली। इससे पहले राज्य में कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना की गठबंधन सरकार बनने को लेकर चर्चाएं थीं।

devendra-fadnavis-and-ajit-pawar

गवर्नर ने अपना दौरा रद्द कर दिलाई शपथ

जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का शनिवार-रविवार को दिल्ली का दो दिवसीय दौरा तय था। लेकिन ऐन वक़्त पर उन्होंने अपना कार्यक्रम रद्द किया और शनिवार सुबह महारष्ट्र के नए सीएम के रूप में देवेंद्र फडणवीस और डिप्टी सीएम के पद पर अजित पवार को शपथ दिलाई। मीडिया में चल रही खबरों के अनुसार, अजित पवार 30 विधायकों के साथ एनसीपी से अलग हो गए हैं और नई पार्टी बना ली है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘अजित ने जो किया, वह एनसीपी का फैसला नहीं है।’ यह भी कहा जा रहा है कि एनसीपी के कुछ बड़े नेता बीजेपी में शामिल हुए थे। उनकी ही महाराष्ट्र की नई सरकार बनने के इस घटनाक्रम में बड़ी भूमिका बताई जा रही है।

इस पूरे घटनाक्रम की जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार रात में एनसीपी की बैठक में अजित पवार मौजूद नहीं थे। संभवत: उस दौरान ही बीजेपी के साथ उनकी बातचीत आगे बढ़ी। ऐसा भी कहा जा रहा है कि शिवसेना पूरे 5 साल तक अपना मुख्यमंत्री चाहती थी, जबकि इस पर अजित को आपत्ति थी। उनका मानना था कि शिवसेना को पूरे 5 साल का मुख्यमंत्री पद क्यों दिया जाए, जबकि एनसीपी के पास भी लगभग बराबरी की सीटें हैं। बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 में बीजेपी ने सबसे ज्यादा 105 सीटों पर जीत दर्ज की थी। एनसीपी ने 54 सीटों पर जीत हासिल की। महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए 145 के बहुमत आंकड़े की जरूरत थी, जो बीजेपी और एनसीपी को मिलाकर 159 हो जाता है।

मोदी और शाह ने दी फडणवीस व पवार को बधाई

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री एवं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री बनने पर देवेंद्र फडणवीस को ट्वीट कर बधाई दी। पीएम मोदी ने लिखा, ‘फडणवीस जी को मुख्यमंत्री और अजित पवार जी को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने की बधाई। मुझे विश्वास है कि दोनों महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए परिश्रम और लगन से काम करेंगे।’ वहीं, अमित शाह ने बधाई ट्विट करते हुए लिखा, ‘श्री देवेंद्र फडणवीस जी को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और श्री अजित पवार को प्रदेश के उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर हार्दिक बधाई। मुझे विश्वास है कि यह सरकार महाराष्ट्र के विकास और कल्याण के प्रति निरंतर कटिबद्ध रहेगी और प्रदेश में प्रगति के नये मापदंड स्थापित करेगी।’

Read More: बीएचयू में फिरोज खान की संस्कृत विभाग में नियुक्ति पर मीडिया ने फैलाया झूठ?

शिवसेना की वजह से राज्य में ऐसी नौबत आई: फडणवीस

दोबारा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा, ‘हमारे नेता मोदी जी और शाह जी का बहुत आभार। उन्होंने फिर एक बार महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के रूप में मुझे सेवा करने का मौका दिया। महाराष्ट्र की जनता ने एक स्पष्ट जनादेश दिया था। शिवसेना ने हमारे साथ गठबंधन करने के बजाय दूसरी जगह गठबंधन करने का फैसला किया। शिवसेना की वजह से ही ऐसी नौबत आई।’ डिप्टी सीएम अजित पवार ने कहा कि हम किसानों की समस्या हल करने के लिए बीजेपी के साथ आए हैं।

COMMENT