आप दुनिया के सबसे खूबसूरत इंसान हैं बस खुद को स्वीकार करके देखिए

Views : 807  |  0 minutes read

दूसरे हमें स्वीकार करें उससे ज्यादा जरूरी है हमारा खुद को स्वीकार करना। अगर हम हमेशा खुद में कमियां तलाशेंगे तो दूसरों की हर बात से आहत हो सकते हैं। हां, खुद को बेहतर बनाने की हमेशा कोशिश करनी चाहिए। मगर बेहतर बनाने के चक्कर में खुद की पहचान खत्म करना सही नहीं है।

कुछ दिनों पहले आयुष्मान खुराना की फिल्म देखी ‘बाला’ जोकि गंजेपन की समस्या को बताती थी। शायद आपने भी ये फिल्म देखी हो। इस फिल्म सबसे बड़ा संदेश था जो बेहद काले रंग की नायिका दे जाती है। नायिका बेहद काली है और सब उसके रंग को लेकर मजाक उड़ाते हैं। मगर वो आत्मविश्वास से भरपूर है सिर्फ इसलिए क्योंकि उसने खुद को स्वीकार किया है। वो जैसी है ठीक उसी तरह। उस काली लड़की ने कभी खुद को गोरा प्रजेंट करने की कोशिश नहीं की। यही उस करेक्टर का सबसे मजबूत पार्ट था।

वहीं दूसरी तरफ एक गंजा आदमी अपना समय बाल उगाने और लोगों से भागने में बिता रहा था। हमारे अंदर भी ऐसी कई समस्याएं हो सकती हैं जिन्हे हम दूर नहीं कर सकते। हो सकता है आप दूसरों जितने अच्छे ना दिखते हों, मोटे हैं, छोटे हैं, अग्रेंजी कम जानते हैं, काले हों। ये जीवन ईश्वर की देन है। हम सब चेंज नहीं कर सकते। ये जीवन बहुत बड़ी देन है जो हमें मिला है। इसमें आप बहुत कुछ कर सकते हैं। हर इंसान खुद में खास है। कोई न कोई ऐसी चीज जरूर होगी जो आपको दूसरों से अलग बनाती है। मगर ये आपको नजर तभी आएगी जब आप खुद की खोज करेंगे। आइना देखने से पहले आपको खुद को देखना होगा आंखे बंद करके। जरूर आप जान जाएंगे कि आप कौन हैं और कैसे खास हैं।

खुद को बदलने से कहीं अच्छा है खुद को स्वीकार करना। जब आप ऐसा करेंगे तो आपकी बहुत सी मुश्किलें आसान हो जाएगी। आजमाकर देखिए…

COMMENT