‘ओल्ड मैन ऑफ हॉय’ पहाड़ी पर चढ़ाई करने वाले पहले ब्लाइंड क्लाइंबर बने जेसी डफ्टन

Views : 1625  |  0 minutes read
Jessie-Doughton-Blind-Climber

जो लोग जीवन में कुछ कर गुजरना चाहते हैं, उनके सामने पहाड़ जैसी मुसीबतें भी कहीं नहीं टिकती। इस बात का ताज़ा उदाहरण बने हैं ब्रिटेन के ब्लाइंड क्लाइंबर जेसी डफ्टन। डफ्टन स्कॉटलैंड की प्रसिद्ध ‘ओल्ड मैन ऑफ हॉय’ पहाड़ी पर चढ़ाई करने वाले दुनिया के पहले ब्लाइंड क्लाइंबर बन गए हैं। उल्लेखनीय है कि स्कॉटिश ओल्ड मैन ऑफ हॉय पहाड़ी 450 फीट ऊंची है। डफ्टन को इसकी चढ़ाई पूरी करने में 7 घंटे लगे। पहाड़ी पर चढ़ाई पूरी करने में डफ्टन की मंगेतर मॉली थॉम्पसन ने उनकी मदद की। उनकी मंगेतर थॉम्पसन ने उन्हें हेडसेट की मदद से वॉइस कमांड दी थी, जिसकी बदौलत वे ओल्ड मैन ऑफ हॉय पहाड़ी पर सफ़लतापूर्वक चढ़ाई कर सके।

Jessie-Doughton-Blind-Climber

15 साल से क्लाइंबिंग कर रहे हैं डफ्टन

जेसी डफ्टन को यहां तक पहुंचने में करीब 15 साल लगे हैं। उन्होंने कभी हिम्मत नहीं हारी और आखिर अपने लक्ष्य को हासिल कर ​ही लिया। डफ्टन साल 2004 से क्लाइंबिंग कर रहे हैं। उनकी मंगेतर भी लगभग इतने वर्षों से क्लाइंबिंग की दुनिया में हैं। स्कॉटलैंड की ओल्ड मैन ऑफ हॉय पहाड़ी लाल रेतीले पत्थरों से बनी है। यह पहाड़ी स्कॉटलैंड के नॉर्थ कोस्ट एरिया में स्थित है।

450 फीट ऊंची पहाड़ी चढ़ने वाले ब्लाइंड क्लाइंबर जेसी डफ्टन ने सफ़लता के बाद कहा, ‘यह पहाड़ी रिमोट एरिया में है। इसलिए मुझे चढ़ाई करने में थोड़ी परेशानी हुई। लेकिन यह समुद्र के किनारे है, इसलिए मैंने इसे चुना था। मैं इस पहाड़ी पर चढ़ने वाला पहला ब्लाइंड क्लाइंबर बनना चाहता था। आखिर यह मैंने हासिल कर लिया। उन्होंने आगे कहा कि क्लाइंबिंग करते समय बहुत ध्यान रखना पड़ता है। आप किसी और चीज के बारे में नहीं सोच सकते। सिर्फ एक चीज सोचनी पड़ती है और वो यह कि खड़ी पहाड़ी पर चढ़ाई कैसे करनी है और यह चढ़ाई पूरी कैसे होगी।’

जेसी डफ्टन के देखने की क्षमता मात्र 1 प्रतिशत

ब्लाइंड क्लाइंबर जेसी डफ्टन का विजन जन्म के समय सिर्फ 20 फीसदी था। इसके बाद जैसे-जैसे उम्र बढ़ती गई, विजन और कम होता चला गया। अभी डफ्टन के देखने की क्षमता मात्र 1 फीसदी रह गई है। उनका कहना है कि ‘मैं ज्यादा चीजें पहचानकर नहीं बता सकता। मैं सिर्फ यह बता सकता हूं कि लाइट कहां जल रही है। मैं अब हाथ चेहरे के सामने लाता हूं और अंगुलियां हिलाता हूं तब अपना हाथ देख पाता हूं। इससे ज्यादा नहीं देख पाता।’

Read: रणवीर सिंह की अपकमिंग फिल्म ‘जयेशभाई जोरदार’ का पोस्टर रिलीज, इस रोल में आएंगे नज़र

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जेसी डफ्टन के पिता भी क्लाइंबर हैं। उनमें बचपन से ही क्लाइबिंग करने को लेकर जुनून रहा। डफ्टन ने मात्र 2 साल की उम्र में पहली बार क्लाइंबिंग की थी। उनका विजन बहुत ज्यादा कमजोर होने के बावजूद वे 16 साल की उम्र तक रग्बी और जुजित्सू खेला करते थे। लेकिन कुछ समय बाद क्लाइंबिंग डफ्टन का फेवरेट स्पोर्ट्स बन गया। जिसके बाद से वे क्लाइबिंग में अपने नए लक्ष्यों के लिए नियमित अभ्यास करते हैं। डफ्टन की मंगेतर मॉली थॉम्पसन भी उनका पूरा साथ देती है।

 

COMMENT