राजस्थान में ड्यूटी पर सभी राज्य कर्मचारियों व संविदाकर्मियों का 50 लाख का बीमा

Views : 3145  |  3 minutes read

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य सरकार के सभी कर्मचारियों के लिए कोरोना अभियान से संबंधित ड्यूटी पर रहते हुए कोरोना संक्रमण की वजह से असामयिक मृत्यु होने पर 50 लाख रुपये की सहायता आश्रित परिवार को देने की घोषणा की है। वहीं राजस्थान में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है और सबसे ज्यादा मामले राजधानी जयपुर में आ चुके हैं।

कोरोना वारियर्स के लिए लिया यह बड़ा फैसला

भारत सरकार द्वारा कोरोना महाप्रकोप में ड्यूटी के दौरान मृत्यु हो जाने पर सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों का 50 लाख रूपये का बीमा करने की घोषणा की गई है। इसका दायरा बढाते हुए राज्य सरकार द्वारा उक्त स्वास्थ्यकर्मियों के अलावा अन्य सभी राज्य कर्मचारियों (पटवारी, ग्राम सेवक, कानिस्टेबल आदि), संविदा कर्मचारी (सफाई कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मचारी आदि) एवं मानदेय कर्मचारी (होमगार्डस, सिविल डिफेंस, आशा सहयोगिनी, आंगनबाडी कार्यकर्ता, आंगनबाडी सहायिका, मिनी आशा इत्यादि) को कोरोना अभियान की ड्यूटी पर रहते हुए कोरोना संक्रमण की वजह से असामयिक मृत्यु होने पर 50 लाख रूपये की सहायता दी जाएगी।

Read More: लॉकडाउन : जयपुर में राशन की होम डिलीवरी के लिए विकसित किया ये एप, जानिये

सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर भी तुरन्त प्रभाव से रोक

इसके अलावा राजस्थान में सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर भी तुरन्त प्रभाव से रोक लगा दी गई है। इस मामले में अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य रोहित कुमार सिंह ने शुक्रवार को एक अधिसूचना जारी कर कोविड-19 के संक्रमण को रोकने व आमजन के स्वास्थ्य व सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए व्यापक लोक हित में राजस्थान ऎपिडेमिक डिजीजेज एक्ट, 1957 की धारा (2) में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए थूंक या पान व अन्य चबाये जाने वाले तम्बाकू व गैर तम्बाकू उत्पादों के खाने के बाद पीक को सार्वजनिक स्थानों व संस्थानों में थूकंने पर तुरन्त प्रभाव से रोक लगा दी है और इन आदेशों की अवहेलना पर संबंधित के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत दण्डात्मक कार्यवाही अमल में लाई जावेगी।

राजस्थान में नहीं रूक रहा कोरोना कहर, इतने हुए मरीज

गौरतलब है कि राजस्थान में कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और सबसे ज्यादा मामले राजधानी जयपुर में ही रहे हैं। राजस्थान में यह संख्या बढ़कर 579 हो गई है तो राजधानी जयपुर में 221, जोधपुर में 43, झुंझुनूं में 31, टोंक में 27, भीलवाड़ा में 28, बांसवाड़ा में 24, बीकानेर में 24, जैसलमेर में 27, कोटा में 33, झालावाड़ में 12 सहित 24 जिलों में कोरोना के मरीज आ चुके हैं।

COMMENT