देश में कोरोना के 62 फीसदी मामले पांच राज्यों में, अब तक 33 लाख से अधिक मरीज हुए ठीक

Views : 620  |  3 minutes read

देश में कोविड-19 महामारी की स्थिति को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया। इसमें स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण, आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव और नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल मौजूद रहे। प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कोरोना वायरस से ठीक होने वाली मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और मृत्यु दर में कमी देखने को मिल रही है। मंत्रालय ने कहा कि देश में कुल सक्रिय मामलों के 62 फीसदी मामले पांच राज्यों में हैं।

देश में कोरोना रिकवरी रेट में लगातार बढ़त

मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने कहा कि भारत में कोरोना वायरस मरीजों के ठीक होने की दर (रिकवरी रेट) लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि इसी लिए सक्रिय मामलों और रिकवर मामलों के बीच का अंतर भी बढ़ रहा है। आज देश में आठ लाख 83 हजार सक्रिय मामले हैं तो 33 लाख 23 हजार लोग ठीक हो चुके हैं।

भूषण ने कहा कि भारत में प्रति 10 लाख की आबादी पर 3102 कोरोना के मामले हैं। यह दुनियाभर के मुकाबले सबसे कम संक्रमण की स्थिति है। उन्होंने कहा, दुनिया में 10 लाख की आबादी पर मामलों की संख्या 3527 है। मैक्सिको में यह 4950, रूस में 7063, अमेरिका में 19,549 और ब्राजील में यह संख्या 19,514 है।

 

COMMENT