मैं किसी धर्म में यकीन नहीं करता, भारतीय होने में यकीन: अक्षय कुमार

Views : 721  |  3 Minute read
akshya kumar

वैसे तो बॉलीवुड वाले धर्म से बहुत ऊपर होते हैं लेकिन कभी—कभी उनका किसी धर्म से प्रभावित होना भी नहीं छुप पाया है। देश में हाल के हालातों पर हमने बॉलीवुड को धर्म के नाम पर बंटते देखा है। किंतु बॉलीवुड सेलिब्रेटी के लिए धर्म केवल दैनिक जीवन को अच्छे से संयमित करना से ज्यादा कुछ नहीं है। यह सच भी है क्योंकि यदि कोई एक्टर या एक्ट्रेस धर्म के बंधन में खुद को बांध ले तो वह कोई फिल्म इस आधार पर कर ही नहीं पाएंगे, कि कहानी में दूसरा धर्म का नायक—नायिका हैं तो वह इस फिल्म में अभिनय नहीं कर सकता।

बॉलीवुड में धर्म नहीं बना कभी बाधक

हां, आज तक तो बॉलीवुड जगत में ऐसा कोई किस्सा नहीं आया जिसमें यह कहकर किसी एक्टर या एक्ट्रेस ने फिल्म करने से मना किया हो कि यह फलां धर्म के नायक या नायिका पर आधारित कहानी है जो वह नहीं कर सकती है। यही खूबी रही है अब तक के बॉलीवुड सेलिब्रेटी की। कहानी का नायक किसी भी धर्म या जाति का रहा हो अभिनयकर्ताओं ने पूरी दिल से वह फिल्म की है। और उस नायक को जिंदा कर दिया है।

यह सच है और बॉलीवुड जगत को चाहिए कि वे लोग भारत की जनता के सामने खुद को धर्म से ऊपर उठाकार प्रस्तुत करें ताकि लोग भी धर्म को केवल नैतिक उत्थान का मार्ग मानकर चले। हमने देखा है बॉलीवुड हस्तियों के लिए धर्म उनके कॅरियर में कभी बड़ी रूकावट नहीं बना है। सबने एक—दूजे धर्मों के नायकों की भूमिका को बड़ी सफलता के साथ अदा किए हैं।

क्यों कहा अक्षय कुमार ने धर्म में यकीन नहीं

बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार से जब धर्म के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं किसी धर्म में यकीन नहीं करता। मैं ​सिर्फ एक ही धर्म है और वह है ‘भारतीय’ होना। उनकी आने वाली फिल्म ‘सूर्यवंशी (Sooryavanshi)’ फिल्म में इसी संदर्भ को प्रस्तुत कर रही है। अक्षय ने कहा कि ‘सूर्यवंशी’ दुनिया को किसी एक धर्म के आईने में नहीं देखती है। उन्होंने आगे कहा कि फिल्म का विचार भारतीय होना है, न कि हिंदू, पारसी या मुस्लिम होना। हमने इसे किसी धर्म के संदर्भ में नहीं देखा है।

रोहित शेट्टी के निर्देशन में बनी फिल्म सूर्यवंशी में अक्षय कुमार ATS अधिकारी की भूमिका निभा रहे हैं। उनके जिम्मे मुबंई को आतंकी हमलों से बचाने का काम सौंपा गया है।

एक इंटरव्यू में अक्षय से जब ये पूछा गया कि उनकी फिल्म देश में हुए हालिया दंगों से प्रभावित लगती है। तो उन्होंने कहा, “ये इत्तेफाक है। हमने फिल्म को जानबूझकर ऐसा नहीं बनाया है। हां, ये बात सही है कि वर्तमान परिदृश्य में फिल्म ज्यादा प्रासंगिक है।”

24 मार्च को रिलीज

अक्षय कुमार कहते हैं, ‘हम फिल्में बनाते हैं जिसमें निगेटिव और पॉजिटिव दोनों ही कैरेक्टर होते हैं, मैं सिर्फ एक पात्र हूं। हर फिल्म में अच्छे और बुरे पात्र होते हैं। दर्शक समझदार हो चुके हैं, वह जानते हैं कि उन्हें किस कैरेक्टर से सबक लेना है।’ ‘सूर्यवंशी (Sooryavanshi)’ 24 मार्च को रिलीज हो रही है।

फिल्म ‘सूर्यवंशी’ को रोहित शेट्टी ने डायरेक्ट किया है। इसमें अजय देवगन और रणवीर सिंह भी नजर आएंगे।

जब बॉलीवुड एक्टर—एक्ट्रेस के जीवन में कोई धर्म बाधक नहीं बना तो हम आम जन के जीवन को धर्म ने किस तरह जकड़ रखा है कि हम अपने कॅरियर के बारे में बहुत कम सोचते हैं। हम धर्म को नैतिक उत्थान और जीवन को ​संयमित बनाने का माध्यम न बना सके। यही हमारी कमजोरी है।

हमें बॉलीवुड सेलिब्रेटी से सीखना चाहिए और हमें एक—दूजे के धर्मों को सम्मान करना चाहिए। हमारे लिए देश पहले होना चाहिए। तब ही भारत सहिष्णु देश बन सकेगा। हमें अपनी कमियों को ढूंढ़ना चाहिए।

COMMENT