हैदराबाद एनकाउंटर: जानिए कौन हैं पुलिस टीम को लीड करने वाले आईपीएस वीसी सज्जनार?

Views : 1668  |  0 minutes read
vc-sajjanar-ips

हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप और मर्डर करने के चारों आरोपी शुक्रवार तड़के एनकाउंटर में मारे गए। इस केस के चारों आरोपियों को शुक्रवार सुबह 3 से 6 बजे के बीच क्राइम सीन रिक्रिएट करवाने के लिए उस जगह ले जाया गया था, जहां लेडी डॉक्टर की गैंगरेप के बाद जली हुई बॉडी मिली थी। साइबराबाद पुलिस इन चारों आरोपियों को घटना का रि​क्रिएशन के लिए लेकर गई थी। एनकाउंटर के बाद हर तरफ तेलंगाना पुलिस की तारीफ़ हो रही है। हालांकि, कुछ लोगों ने इस पर सवाल भी उठाए हैं। वहीं, साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार को इस एनकाउंटर का हीरो बताया जा रहा है। ऐसे में आइये जानते हैं कौन है यह आईपीएस अफसर..

vc-sajjanar-ips

एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माने जाते हैं वीसी सज्जनार

साइबराबाद पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार 1996 बैच के आईपीएस अफसर हैं। सज्जनार को एनकाउंटर स्पेशलिस्ट माना जाता है। इससे पहले वह महिला अपराध से जुड़े एक मामले में आरोपियों का एनकाउंटर कर चुके हैं। उस वक़्त वह वारंगल एसपी पद पर कार्यरत थे। इसके अलावा सज्जनार माओवादी के खिलाफ कई ऑपरेशन में एनकाउंटर टीम का हिस्सा रहे थे। उनकी डेढ़ साल पहले ही साइबराबाद पुलिस कमिश्नर पद पर तैनाती हुई है।

2008 के एनकाउंटर का क्या था मामला?

साल 2008 में वीसी सज्जनार वारंगल में एसपी पद पर तैनात थे। उस वर्ष दिसंबर में अविभाजित आंध्र प्रदेश के वारंगल में दो लड़कियों पर तेजाब फेंकने की घटना हुई, जिसमें पीड़िता बुरी तरह झुलस गई थी। इस घटना के बाद लोगों में भारी गुस्सा था और सड़कों पर उतर कर काफ़ी विरोध प्रदर्शन किए गए। घटना से चार दिन बाद वारंगल पुलिस ने मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

जब इन तीनों आरोपियों को पुलिस घटनास्थल पर क्राइम सीन रिक्रिएट करने के लिए लेकर गई तो, आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर भागने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस की जवाबी कार्रवाई में तीन आरोपी श्रीनिवास राव, बी संजय और पी हरिकृष्णा मारे गए थे। उस वक़्त वारंगल पुलिस ने वीसी सज्जनार के नेतृत्व में ही एनकाउंटर किया था। अब साइबराबाद पुलिस एनकाउंटर से उस घटना की याद ताज़ा हो गई है। यह संयोग ही है कि इस बार भी पुलिस की कमान सज्जनार के हाथों में थी।

27 नवंबर की रात हुआ था लेडी डॉक्टर का रेप-मर्डर

हैदराबाद में साइबराबाद पुलिस द्वारा किए गए इस एनकाउंटर की अभी मजिस्ट्रेट जांच होनी बाकी है, क्योंकि हर पहलू को देखा जाएगा कि क्या एनकाउंटर करना जरूरी था या नहीं। पुलिस का दावा है कि आरोपियों ने रि​क्रिएशन के दौरान हमला कर दिया और हथियार छीनकर भागने की कोशिश करने लगे। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने गैंगरेप-मर्डर के चारों आरोपियों को शूट कर दिया, जिसमें वो सभी मारे गए। गैंगरेप-मर्डर के आरोपियों का एनकाउंटर करने के बाद लोगों ने साइबराबाद पुलिस कमिश्वर वीसी सज्जनार को असली हीरो बताया है। एनकाउंटर के बाद घटनास्थल पर मौजूद लोगों ने पुलिस पर फूल बरसाए और डीसीपी जिंदाबाद और एसीपी जिंदाबाद जैसे नारे लगाए।

स्पेशल: भारतीय विदेश सेवा के सर्वोच्च पद पर काम करने वाली दूसरी महिला हैं निरुपमा राव

आपको बता दें, हैदराबाद के पास शादनगर में 27 नवंबर को स्कूटी से जा रही लेडी वेटनरी डॉक्टर के साथ चार आरोपियों ने 7 घंटे तक शराब पिलाकर रेप किया था। इसके बाद उन्होंने उसका मर्डर किया और पेट्रोल छिड़क कर जिंदा जला दिया था।

 

COMMENT