मॉनसून में स्टाइलिश दिखने के लिए फॉलो करें ये फैशन टिप्स

Views : 1235  |  0 minutes read

मॉनसून का सीजन यूं तो सभी को अपनी ओर खींच लेता है। मगर कुछ लोगों के लिए यह सीजन अच्छी खासी मुसीबत होता है। हर किसी की यही परेशानी होती है कि आखिर ऐसा क्या पहने जो स्टाइलिश दिखने के साथ साथ इस मौसम का भी भरपूर तरीके से लुत्फ उठा सके। आज हम बात कर रहे है नौकरीपेशा लोगों की। जिनका इस मौसम में बाहर निकलना एक मुसीबत से कम नहीं। बारिश का मौसम आपके फैशन को फीका कर देता है। ऐसे में आपके सामने एक बड़ी चुनौती होती है बिना कॉम्प्रोमाइज किए अपने स्टाइल को बनाए रखना। ऐसे में कुछ आसान से टिप्स को फॉलो कर आप इस मौसम में आराम से अपने स्टाइल को बनाए रख सकती है। तो आइए आपको बताते है कुछ ऐसे ही टिप्स जिन्हें फॉलो कर आपको अपने स्टाइल से कॉम्प्रोमाइज नहीं करना पड़ेगा।

मॉनसून वार्डरोब में इन फ्रैब्रिक को करें शामिल

बारिश के मौसम में सबसे अहम होता है कपड़ों का सही चुनाव करना। इस मौसम में हल्के फ्रेबिक वाले कपड़े पहनने चाहिए जो बारिश में भीगने के बावजूद जल्दी सूख जाए। इसलिए अपनी वार्डरोब में लाइक्रा, मलमल, पॉलिस्टर फैब्रिक वाले आउटफिट्स जैसे ट्राउजर, एन्कल लेंथ प्लाजो, शॉर्ट प्लाजो, स्कर्ट, मैक्सी ड्रेस को शामिल करें। ये मौसम के हिसाब से बेहद कंफर्टेबल होते है।

बारिश के मौसम में डेनिम को कहें गुड बाय

बारिश के मौसम में जहां तक हो डेनिम वियर करना बिलकुल सही नहीं होता है। दरअसल डेनिम एक ऐसा आउटफिट्स है जो हर किसी की वार्डरोब में अपनी जगह बनाता ही है। इस सीजन में इसे पहनने की बिलकुल भी गलती ना करें। क्योंकि डेनिम गिली होने के बाद काफी हैवी हो जाती है जिसका जल्दी से सूखना नामुमकिन है। इसलिए इसे पहनना अवॉइड ही करें।

व्हाइट आउटफिट्स को करें अवॉइड

बारिश के मौसम में जहां तक हो सफेद कपड़े पहनना अवॉइड करना चाहिए। दरअसल व्हाइट कपड़ों पर दाग-धब्बे लगने का खतरा रहता है जिन्हें निकालने में खासी मशक्कत करनी पड़ती है। ऐसे में व्हाइट कपड़ों की जगह पेस्टल, ब्राइट शेड्स के आउटफिट्स पहनें।

इन फुटवियर्स को दे जगह

बारिश के मौसम में अपने स्टाइल को बनाए रखने के लिए फुटवियर्स पर ध्यान देना भी जरूरी है। ऐसे मौसम के लिए अच्छी ग्रिप वाले ऐसे फुटवियर्स का चुनाव करें जो भीगने के बाद आसानी से सूखे सकें। साथ ही जो आगे से ओपन हो ताकि पानी आसानी से निकल सके। इस मौसम में शूज या बैली अवॉइड करें क्योंकि इनमें पानी अंदर तक चला जाता है जिसके कारण पैरों में इंफेक्शन होने का खतरा रहता है।

COMMENT