अनिल देशमुख के खिलाफ ईडी ने जारी किया लुकआउट नोटिस, विदेश भागने की फिराक में एनसीपी नेता

Views : 1070  |  3 minutes read
Anil-Deshmukh-NCP

सौ करोड़ रुपये की वसूली के मामले में आरोपी एनसीपी नेता व महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख देश छोड़कर भागने की फिराक में हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ED) द्वारा उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है, जिसके बाद वे देश से बाहर नहीं जा सकेंगे। आपको बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने अनिल देशमुख पर 100 करोड़ रुपये की वसूली का आरोप लगाया था। देशमुख पर पुलिस अधिकारियों के गलत इस्तेमाल, जबरन वसूली करवाना व ट्रांसफर-पोस्टिंग में दखल का भी आरोप है। वसूली के आरोपों के बाद अनिल देशमुख को गृह मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था। इस पूरे मामले की जांच ईडी कर रहा है।

देशमुख को 5 बार समन जारी कर चुका है ईडी

चर्चित 100 करोड़ रुपये की वसूली मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है। ईडी अनिल देशमुख को अब तक पांच बार समन जारी कर चुका है, लेकिन वह अब तक एक बार भी प्रवर्तन निदेशालय के सामने हाजिर नहीं हुए हैं। मालूम हो कि सुप्रीम कोर्ट ने भी देशमुख को राहत देने से इंकार कर दिया था। अब ये कयास लगाए जा रहे हैं कि वह जांच से बचने के लिए देश छोड़ भागने की तैयारी कर रहे हैं।

देशमुख की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर चुकी है ईडी

आपको जानकारी के लिए बता दें कि इस केस की जांच के दौरान सीबीआई की रिपोर्ट लीक करने के मामले में केंद्रीय एजेंसी के ही सब-इंस्पेक्टर अभिषेक तिवारी की गिरफ्तारी भी हो चुकी है। मामले में सामने आया था कि अभिषेक तिवारी ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख के वकील आनंद डागा से रिश्वत के रूप में एप्पल आईफोन लिया था। मामला सामने आने के बाद आनंद डागा की भी गिरफ्तारी हुई। प्रवर्तन निदेशालय अनिल देशमुख को गिरफ्तार करने के लिए कई ठिकानों पर छापेमारी भी कर चुका है। अब देशमुख देश छोड़कर दूसरे देश भागने की जुगत में लगा हुआ है। इसलिए ईडी ने उन्हें लुकआउट नोटिस जारी किया है।

Read Also: असम में कांग्रेस ने बदरुद्दीन अजमल के AIUDF और BPF से तोड़ा गठबंधन

COMMENT