महाराष्ट्र: बॉम्बे हाईकोर्ट की सीबीआई जांच के आदेश के बाद के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने दिया इस्तीफा

Views : 1640  |  3 minutes read
Anil-Deshmukh-Resigns

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सौ करोड़ वसूली मामले पर बॉम्बे हाईकोर्ट की सीबीआई जांच के आदेश के तीन घंटे के भीतर ही अपना इस्तीफा दे दिया। देशमुख ने राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंपा। कहा जा रहा है कि एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार से बात करने के बाद अनिल देशमुख ने इस्तीफा दिया। जानकारी के मुताबिक, दिलीप पाटिल को महाराष्ट्र का अगला गृहमंत्री बनाया जा सकता है। हालांकि, इस पर फिलहाल कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। लेकिन अटकलें लगाई जा रही है कि दिलीप पाटिल को गृहमंत्रालय का प्रभार सौंपा जा सकता है।

भाजपा ने की थी देशमुख के इस्तीफे की मांग

महाराष्ट्र के गृहमंंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद प्रदेश भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि वह खुश हैं कि देशमुख ने इस्तीफा दे दिया। साथ ही कहा कि सीबीआई जांच में चौंकाने वाले अभी कई सारे खुलासे होंगे। इससे पहले राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अनिल देशमुख से इस्तीफे की मांग की थी। फडणवीस ने कहा कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद गृहमंत्री को जांच के दौरान इस्तीफा दे देना चाहिए।

देशमुख पर लगे आरोप निराधार और बेबुनियाद: मलिक

अनिल देशमुख ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखी अपने इस्तीफे की चिट्ठी ट्वीट की। देशमुख ने कहा कि वह जांच चलने तक पद पर नहीं रहेंगे। वहीं, महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि अनिल देशमुख पर लगाए गए सभी आरोप निराधार और बेबुनियाद है। मलिक ने बताया कि देशमुख ने खुद ही इस पद से इस्तीफा दिया है।

गृहमंत्री पर परमबीर ने 100 करोड़ की वसूली का लगाया था आरोप

आपको बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने सोमवार को सुनवाई करते हुए गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ सीबीआई जांच का आदेश जारी किया था। याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि गृहमंत्री पर वसूली के आरोप लगाए गए हैं। वह बेहद गंभीर है। ऐसे में इसकी जांच सीबीआई से होनी चाहिए। हाईकोर्ट ने 15 दिन के भीतर जांच रिपोर्ट सीबीआई डायरेक्टर को सौंपने को कहा है। गौरतलब है कि परमबीर सिंह ने गृहमंत्री देशमुख के खिलाफ हाईकोर्ट में सौ करोड़ रुपए वसूली मामले को लेकर एक याचिका लगाई थी।

पश्चिम बंगाल: चुनाव आयोग ने ममता बनर्जी को नोटिस भेज 48 घंटे में मांगा जवाब

COMMENT