सीआरपीएफ और डीआरडीओ ने मिलकर बनाई एबुलेंस बाइक, मेडिकल इमरजेंसी में आएंगी मदद के काम

Views : 1656  |  3 minutes read
CRPF-and-DRDO-Bike

केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंस ने मिलकर एक खास बाइक एंबुलेंस तैयार की है। इसका नाम ‘रक्षिता’ रखा गया है। राजधानी दिल्ली में मंगलवार को इस नई बाइक एंबुलेंस को लॉन्च किया जाएगा। बता दें कि इस बाइक एंबुलेंस को इसलिए बनाया गया है ताकि मेडिकल इमरजेंसी और विवादित क्षेत्रों में घायल होने की स्थिति में सुरक्षा बलों के जवानों की तत्काल निकासी में मदद मिल सके। जानकारी के अनुसार, किसी एनकाउंटर के दौरान घायल होने की स्थिति में भी यह एंबुलेंस बाइक सीआरपीएफ के जवानों की मदद करेगी।

नक्सल प्रभावित इलाकों में ज्यादा मददगार साबित होंगी

आपको बता दें कि यह बाइक एंबुलेंस बीजापुर, सुकमा, दंतेवाड़ा जैसे नक्सल प्रभावित इलाकों में ज्यादा मददगार साबित होंगी, क्योंकि इन इलाकों में सुरक्षा बलों के जवानों के लिए एंबुलेंस या बड़ा वाहन ले जाना मुश्किल हो जाता है। इन खास एंबुलेंस बाइक को इसलिए बनाया गया क्योंकि सीआरपीएफ के जवानों को नक्सली इलाकों या घने जंगलों में बनी संकीर्ण सड़क पर चलने में परेशानियों का सामना करना पड़ता था। इसलिए ऐसी बाइक को बनाने की जरूरत महसूस की गई।

गौर करने वाली बात ये है कि इन नक्सल प्रभावित इलाकों में मेडिकल की सुविधाएं देरी से पहुंच पाती हैं, जिसकी वजह से मरीज का समय पर उपचार शुरू नहीं किया जा सकता है। इसको देखते हुए ही सीआरपीएफ की तरफ से ऐसी बाइक को बनाने की जरूरत महसूस की गई। उल्लेखनीय है कि इंस्टीट्यूट ऑफ न्यूक्लियर मेडिसिन एंड एलाइड साइंस बायोमेडिकल और क्लिनिकल रिसर्च के क्षेत्र में काम करता है। यह भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन के तहत आता है। इससे पहले हाल ही में इंडियन आर्मी के एक मेजर ने दुनिया की पहली यूनिवर्सल बुलेटप्रूफ जैकेट विकसित की है।

Read More: इंडियन आर्मी के मेजर ने विकसित की दुनिया की पहली यूनिवर्सल बुलेटप्रूफ जैकेट

COMMENT