क्या है कोरोना वायरस जिसने दुनिया में मचा रखा है आतंक, कैसे करें बचाव

Views : 966  |  3 Minute read
corona virus

दुनियाभर के लिए महामारी के रूप में उभरा कोरोना वायरस से अब तक तीन हजार से अधिक मौतें हो चुकी हैं। चीन में वायरस से सबसे अधिक मौतें हुई हैं। नए कोरोनवायरस वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में जा सकते हैं जो एक प्रकार का निमोनिया का कारण बनता है। चीन के वुहान शहर से शुरू हुए कोरोना वायरस का संक्रमण अब यह दुनिया भर के कई देशों में पैर पसार चुका है। चीन के बाद ईरान, हांगकांग, जापान, इटली समेत कई देशों के बाद अब इसने भारत में भी दस्तक दे दी है।

पिछले साल दिसंबर में चीन के वुहान शहर से कोरोना वायरस के मरीज मिले थे। यह वायरस निमोनिया से पीड़ित मरीजों में पाया गया था। इंसान से इंसान में फैलने वाला वायरस है। कोरोना वायरस पहले ऊंट, बिल्ली, चमगादड़ में मिलता था।

इसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मुताबिक कोरोना वायरस सी-फूड से संबंधित है। जोकि विषाणु (Virus) परिवार का है। कोरोना वायरस COVID 19 के नाम से जाना जाता है। इसके संक्रमण से लोग बीमारी पड़ रहे हैं।

क्या हैं कोरोना वायरस के लक्षण

कोरोना वायरस के लक्षण सामान्य सर्दी, जुकाम या निमोनिया जैसा होता है। इससे पीड़ित मरीज में लक्षणों का प्रकट होने में 2 से 14 दिन का समय लग सकता है। इसमें पहले सूखी खांसी, जुकाम होती है और फिर सांस लेने में तकलीफ होने लगती है, जो निम्न प्रकार से हैं-

  • जुकाम और खांसी होना
  • नाक बहना
  • तेज बुखार
  • बुख़ार ( कम से कम 2-3 से लगातार)
  • सांस लेने में तकलीफ
  • गले में खराश
  • उल्टी

कई बार पीड़ित की हालत गंभीर हो जाती है। कोरोना वायरस के इंफेक्शन से निमोनिया भी हो सकता है, तीव्र श्वसन सिंड्रोम यानी सीवियर एक्यूट रेस्पायरेटरी सिंड्रॉम (SARS), गुर्दों का फेल होना और यहां तक इससे मरीज की मौत भी संभव है।

बचाव

corona virus

इस वायरस से बचाव के लिए खुद को ही कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए, इस प्रकार आप खुद को कोरोना वायरस से बचा सकते हैं।

  • पीड़ित व्यक्ति से संपर्क में आने से पहले और बाद में अच्छे से अपने हाथ धोएं।
  • डिस्पोजेबल दस्ताने पहनें।
  • सर्जिकल मास्क का उपयोग करें।
  • व्यक्तिगत वस्तुओं को धोएं।
  • ऐल्कॉहॉल वाले हैंड वॉश से करें।

कोरोना एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में छूने से फैल रहा है यानी अगर किसी व्यक्ति को कोरोना वायरस का इंफेक्शन (संक्रमण) हो गया है तो दूसरा व्यक्ति जो उसके संपर्क में आएगा उसे भी ये इंफेक्शन हो सकता है।

इन भ्रांतियों से बचें

अभी तक ऐसा कोई मामला नहीं आया है जिसमें बताया गया हो कि कोरोना वायरस सांस लेने-छोड़ने से फैलता है। लेकिन थूक और छींक से यह हो सकता है। रोगी की किसी भी वस्तु के संपर्क में आने से भी वायरस फैलने का खतरा है। इसलिए हाथ अच्छे से धोते रहें। सफाई का ध्यान रहें।

सोशल मीडिया पर ऐसी पोस्ट पर विश्वास न करें, जिसमें केवल भ्रम फैला रखा हो। WHO ने ऐल्कॉहॉल वाले हैंड वॉश की सलाह जरूर दी थी, लेकिन ऐल्कॉहॉल पीने की नहीं।

 

COMMENT