पंजाब में कैप्टन, ढींढसा और भाजपा मिलकर लड़ेंगे चुनाव, अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए बनेगी समिति

Views : 752  |  3 minutes read
Captain-BJP-and-Dhindsa-Alliance

अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस से अलग होकर पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी बनाने वाले कैप्टन अमरिंदर सिंह सोमवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मिलने दिल्ली पहुंचे। दिल्ली स्थित उनके आवास पर दोनों नेताओं के बीच पंजाब में आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर बातचीत हुई।

इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र शेखावत ने बताया कि भाजपा, अमरिंदर सिंह और सुखदेव सिंह ढींढसा की पार्टी एक साथ मिलकर पंजाब विधानसभा चुनाव में उतरेंगी। उन्होंने ने कहा कि राज्य में सीट बंटवारे और घोषणा-पत्र जैसे मुद्दों पर चर्चा के लिए प्रत्येक पार्टी के 2 सदस्यों की एक कमेटी बनाई जाएगी।

गठबंधन में भाजपा हो सकती है सबसे बड़ी पार्टी

आपको जानकारी के लिए बता दें कि हाल में भारतीय जनता पार्टी ने पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की पार्टी पंजाब लोक कांग्रेस (पीएलसी) के साथ पंजाब के गठबंधन के सहारे आगे बढ़ने का फैसला लिया था। हालांकि, इस गठबंधन में भाजपा ही बड़ी पार्टी होगी और प्रदेश की 70 से अधिक सीटों पर उसके चुनाव लड़ने की संभावना है। भाजपा अपने उम्मीदवारों को शहरी क्षेत्रों में टिकट देगी। गौरतलब है कि पंजाब में विधानसभा की कुल 117 सीटें हैं। आने वाले दिनों में दोनों वरिष्ठ नेता पंजाब में सीट शेयरिंग पर चर्चा कर सकते हैं।

कैप्टन अमरिंदर भाजपा के साथ जाने का दे चुके थे इशारा

पंजाब की राजनीति के दिग्गज खिलाड़ी कैप्टन अमरिंदर सिंह के पिछले कुछ समय से भाजपा के साथ जाने के कयास लगाए जा रहे थे। इस बीच कांग्रेस से इस्तीफे और नई पार्टी के ऐलान के साथ ही कैप्टन ने भी संकेत दिए थे कि वह आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा के साथ गठबंधन कर सकते हैं। उन्होंने कहा था कि भाजपा के साथ गठबंधन के लिए मेरी एकमात्र शर्त तीनों कृ​षि कानूनों को वापस लेना था, जिससे किसान आंदोलन समाप्त हो।

कैप्टन ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से उनकी बात पहले ही हो चुकी है। वहीं, नई पार्टी के गठन के साथ ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भाजपा के साथ गठबंधन कर आगामी विधानसभा चुनाव में उतरने का ऐलान कर दिया था। इस गठबंधन को असल रूप देने के लिए कैप्टन कई बार पीएम व गृहमंत्री शाह से भी बातचीत कर चुके थे। हालांकि, इस दौरान भाजपा हाईकमान ने चुप्पी साध रखी थी। अब भाजपा, कैप्टन और ढींढसा संयुक्त रूप से चुनाव मैदान में उतरने का ऐलान कर चुके हैं।

Read Also: गृह मंत्रालय ने 31 जनवरी तक सभी राज्यों के लिए जारी की नई गाइडलाइन

COMMENT