बीएसएनएल देगा अपने ग्राहकों को देगा कॉल करने के पैसे, जानें क्या है वजह

Views : 875  |  0 minutes read

हाल में रिलायंस जियो इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज (आईयूसी) को लेकर काफी चर्चित रही थी। इस चार्ज के अंतर्गत उसने अपने उपभोक्ताओं से नॉन जियो कॉलिंग करने पर पैसा लेना शुरू कर दिया है और उसने अपने रिचार्जों की कीमतें बढ़ा दी है। वहीं देश की सरकारी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल ने इसके विपरीत एक नया प्लान जारी किया है जिसके तहत वह अपने उपभोक्ताओं को कॉलिंग करने पर पैसे देगी।

बीएसएनएल के इस नए ऑफर में यदि कस्टमर 5 मिनट या इससे अधिक समय तक बात करता है तो वह उसके अकाउंट में 6 पैसे जोड़ देगा। बता दें कि फिलहाल यह कंपनी घाटे में चल रही है। हाल में बीएसएनएल और एमटीएनएल को मर्ज करने की बातें चली थी।

कंपनी के डायरेक्टर सीएफए ने अपने एक बयान में कहा है कि ‘डिजिटल एक्सपेरिंएस के जमाने में जहां उपभोक्ता अपने वॉयस और डेटा के लिए क्वॉलिटी सर्विस चाहते हैं, हम अपने कस्टमर्स को अपग्रेडेड नेक्स्ट जेनेरेशन नेटवर्क से इंगेज करना चाहते हैं, ताकि उन्हें बेहतर एक्सपीरिएंस मिल सके।’

बीएसएनएल देगा 6 पैसे का कैशबैक

कंपनी के सीएफए ने कहा है कि यह 6 पैसे का कैशबैक ऑफर देश के सभी बीएएसनएल वायरलाइन, FTTH और ब्रॉडबैंड उपभोक्ताओं के लिए हैं। कंपनी के इस नए प्लान से उपभोक्ता कितना लाभ ले पाते हैं और कंपनी अपना घाटे की कितनी भरपाई कर पाती है, यह तो आने वाला समय ही बता पाएगा। इससे जियो कस्टमर को नुकसान उठाना पड़ सकता है। क्योंकि अब यूजर्स को नॉन जियो कॉलिंग के लिए पैसे देने होते हैं, इससे प्लान महंगे हो गए हैं।

हाल में रिलायंस जियो में आईयूसी को लेकर हलचल मची थी। कंपनी लगातार यह चाह रही है कि ट्राई आईयूसी को नि:शुल्क कर दें, ताकि कंपनी एक बार फिर से यूजर्स को फ्री कॉल की सर्विस दे सके।

वहीं एयरटले और वोडाफोन, ये दोनों ही कंपनियां चाहती हैं कि आईयूसी को और बढ़ा दिया जाए ताकि टेलीकॉम इंडस्ट्री में पिछले कुदेगछ सालों से जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई की जा सके।

COMMENT