बर्थडे: ओम पुरी का बहुत गरीबी में बीता था बचपन, मां के साथ रहते थे ननिहाल

Views : 2265  |  3 minutes read
Om-Puri-Biography

हिंदी सिनेमा के जाने-माने अभिनेता रहे ओम पुरी की 18 अक्टूबर को 70वीं जयंती है। उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में उनकी धाकड़ संवाद अदायगी और दमदार अभिनय के लिए जाना जाता था। पुरी की धाक सिर्फ हिंदी सिनेमा में ही नहीं थी, बल्कि वो ऐसे अभिनेता थे जिसने विदेशों में भी अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया। ओम पुरी आज भले ही हमारे बीच नहीं है, मगर उनकी बर्थ एनिवर्सरी के मौके पर आइए जानते हैं उनके बारे में कुछ ख़ास किस्से..

हरियाणा के अम्बाला नगर में हुआ था जन्म

ओमपुरी का जन्म 18 अक्टूबर 1950 को हरियाणा के अम्बाला नगर में हुआ। घर की आर्थिक हालत ठीक नहीं होने के कारण ओम अपनी मां के साथ पंजाब स्थित अपने ननिहाल रहने लगे। उनकी प्रारंभिक शिक्षा पंजाब के पटियाला से हुई है। एक्टिंग की तरफ रुझान होने के कारण ओम ने भारत के फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान में दाखिला लिया। यहां तीन साल अध्ययन करने के बाद ओम नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा चले गए।

ऐसे हुई फिल्मी सफर की शुरुआती

ओम पुरी ने अपने फिल्मी सफर की शुरुआत फिल्म ‘घासीराम कोतवाल’ से की थी। ओम के सिने करियर में साल 1980 बेहद महत्वपूर्ण साल रहा। इस साल उनकी फिल्म आक्रोश सिने करियर की पहली हिट फिल्म रही। अपनी दमदार अभिनय से ओम ने हिंदी सिनेमा को कई शानदार फिल्में दी है। ओम के लिए बॉलीवुड में सक्सेस पाना आसान नहीं था। एक नॉन फिल्मी फैमिली से होने के कारण ओम को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था। मगर संघर्षों के बावजूद ओम अपनी जबरदस्त एक्टिंग के दम पर बॉलीवुड में एक मुकाम हासिल करने में कामयाब रहे।

ओम पुरी की निजी जिंदगी

ओम ने अपनी जिंदगी में दो शादियां की। ओम ने साल 1991 में अन्नू कपूर की बहन सीमा कपूर से शादी की। मगर दोनों का ये रिश्ता कुछ महीनों बाद ही टूट गया। साल 1993 में ओम ने पत्रकार नंदिता पुरी से शादी की। इस शादी से दोनों को एक बेटा ईशान पुरी है। ओम की दूसरी शादी भी कुछ सालों बाद टूट गई। साल 2013 में दोनों आधिकारिक रूप से अलग हो गए। 6 जनवरी, 2017 का वो दिन था जब ओमपुरी का दिल का दौरा पड़ने के कारण अंधेरी स्थित अपने घर में निधन हो गया था।

Read More: फिल्मों में एंट्री लेने से पहले न्यूज रीडर हुआ करती थी स्मिता पाटील

COMMENT