क्वारंटीन नियमों पर ब्रिटेन के झुकने के बाद भारत ने भी दी उसके नागरिकों को राहत

Views : 638  |  3 minutes read
India-UK-Changes-Quarantine-Rules

ब्रिटेन सरकार के क्वारंटीन नियमों पर झुकने के बाद भारत सरकार ने भी यूके के नागरिकों को राहत दी है। केंद्र सरकार ने ब्रिटेन से आने वाले लोगों पर कोविड-19 से जुड़ी अतिरिक्त पाबंदियां लगाने वाला एक यात्रा परामर्श वापस ले लिया है। आपको बता दें कि कोविशील्ड टीके की दोनों खुराक लगवाने के बाद भारत से ब्रिटेन जाने वाले लोगों के लिए अनिवार्य जांच और क्वारंटीन के नियमों को ब्रिटिश सरकार द्वारा अब स्थगित किए जाने के बाद भारत सरकार ने यह कदम उठाया है।

11 अक्टूबर को आधिकारिक ज्ञापन जारी कर दी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 11 अक्टूबर को जारी किए एक आधिकारिक ज्ञापन में कहा कि उभरते परिदृश्य के आधार पर, यह निर्णय लिया गया है कि संशोधित दिशा-निर्देश वापस लिया गया माना जाए। इसमें कहा गया है कि अंतरराष्ट्रीय आगमन पर 17 फरवरी को जारी पूर्व के दिशा-निर्देश ब्रिटेन से आने वाले सभी यात्रियों पर लागू होंगे। मालूम हो कि इस महीने की शुरुआत में भारत ने कहा था कि ब्रिटेन से आने वाले सभी ब्रिटिश नागरिकों को अनिवार्य रूप से 10 दिन पृथक-वास में रहना होगा, चाहे उनका कोविड-19 का पूर्ण टीकाकरण क्यों न हो चुका हो।

UK ने कोविशील्ड को मान्यता देने के बावजूद सख्त किए थे नियम

आपको जानकारी के लिए बता दें कि ब्रिटेन सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित कोविशील्ड टीके को मान्यता तो दे दी थी, लेकिन टीके की दोनों खुराक ले चुके भारतीय यात्रियों के लिए 10 दिन के पृथक-वास के प्रावधान को बरकरार रखा था, जिसके बाद भारत ने भी ब्रिटिश नागरिकों के यहां आने पर 10 दिन का पृथक-वास लागू करने की घोषणा की थी।

भारत के कोविन सर्टिफिकेट को ब्रिटेन ने नहीं दी थी मान्यता

गौरतलब है कि भारत ने ब्रिटेन सरकार द्वारा भारतीय नागरिकों पर लागू किए नियमों को भेदभावपूर्ण बताया था। ब्रिटेन की तरफ से भारत के वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट कोविन को मान्यता नहीं दी गई थी। इसे लेकर भारत में ब्रिटेन के हाई कमिश्नर ने कहा था कि दोनों पक्षों में बातचीत हो रही है। इसके बाद भारत ने भी ब्रिटिश नागरिकों पर सख्त नियम लागू कर दिए थे।

Read Also: ब्रिटेन ने आखिरकार भारत में बनी कोरोना वैक्सीन ‘कोविशील्ड’ को दी स्वीकृति

COMMENT