320 करोड़ ई-मेल आईडी पासवर्ड के साथ लीक, कहीं आप भी शिकार तो नहीं..

Views : 706  |  3 minutes read
E-Mail-ID-Leaked

साल दर साल ऑनलाइन डाटा लीक के मामले बढते जा रहे हैं। कुछ साल पहले तक इस तरह के बहुत ही कम आया करते थे, लेकिन डिजिटल होती दुनिया में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के बढ़ने के साथ ही डाटा लीक में तेजी से इजाफा हो रहा है। हाल में डाटा लीक के कई मामले सामने आए। इसके बाद अब एक बार फिर बड़े डाटा लीक की खबर है। ताजा जानकारी के अनुसार, 300 करोड़ से अधिक ई-मेल आईडी और पासवर्ड के लीक होने मामला सामने आया है। एक साइबर रिपोर्ट में कहा गया है कि 3.2 बिलियन यानि 320 करोड़ ई-मेल आईडी पासवर्ड के साथ लीक हो गई है।

नेटफ्लिक्स, लिंकडिन जैसे प्लेटफॉर्म से लीक हुआ डाटा

साइबर न्यूज़ द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यह डाटा लीक नेटफ्लिक्स, लिंकडिन, बिट्क्वाइन जैसे प्लेटफॉर्म से हुआ है। इस लीक को कंपाइलेशन ऑफ़ मेनी ब्रीचेस यानि सीओएमबी नाम दिया गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, लीक डाटा को अर्काइव कर लिया गया है और पासवर्ड प्रोटेक्टेड कंटेनर में रखा गया है। जिस डाटाबेस से डाटा लीक हुआ है उसे count-total.sh, query.sh और sorter.sh बताया जा रहा है। बता दें, इन स्क्रिप्ट के जरिए डाटा आसानी से चोरी होता है।

एक ही पासवर्ड का इस्तेमाल करने वालों का डाटा अधिक

सीओएमबी डाटा लीक में डाटा को अल्फाबेटिकल क्रम में पासवर्ड के साथ रखा गया है। यह डाटा लीक काफी हद तक वर्ष 2017 में हुए डाटा लीक के जैसा है, जिसमें 100 करोड़ से अधिक लोगों का डाटा प्लेन टेक्स्ट में लीक हुआ था। रिपोर्ट के अनुसार, इस डाटा लीक में लिंकडिन, मिनीक्राफ्ट, नेटफ़्लिक्स, बादू, बिटकॉइन और पेस्टबिन के यूजर्स प्रभावित हुए हैं। पहली जांच में यह सामने आया है कि इसमें उन यूजर्स के अधिक डाटा हैं, जिन्होंने जी-मेल और नेटफ्लिक्स के लिए एक ही पासवर्ड का इस्तेमाल किया था।

Read More: यूट्यूब जल्द ही लॉन्च करने जा रहा नए फीचर, शॉपिंग कर सकेंगे व्यूअर्स

COMMENT