स्पेशल: क्रिकेटर बनने से पहले मैकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्र थे ज़हीर खान, स्मिथ को बनाया 13 बार शिकार

Views : 1578  |  0 minutes read

Zaheer-Khan

अपने समय में आग उगलती गेंदों से दूसरी टीमों के बल्लेबाजों में ख़ौफ़ पैदा कर देने वाले भारत के पूर्व तेज गेंदबाज ज़हीर ख़ान का 07 अक्टूबर को 41वां जन्मदिन हैं। उनका जन्म वर्ष 1978 में महाराष्ट्र राज्य के श्रीरामपुर में हुआ था। बाएं हाथ के फास्ट बॉलर ज़हीर को गेंदबाजी का सचिन तेंदुलकर भी कहा जाता है। टीम इंडिया के साथी उन्हें प्यार से ‘ज़ैक’ कहकर पुकारते हैं। ज़हीर ने फिल्म ‘चक दे इंडिया’ फेम एक्ट्रेस सागरिका घाटगे से शादी की है। ज़हीर ने अपने करीब 15 साल लंबे कॅरियर में कई उपलब्धियां अपने नाम की। वे टीम इंडिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुवाई करते थे। ज़हीर खान के जन्मदिन के अवसर पर जानते हैं उनके बारे में कई ख़ास बातें..

Zaheer-Khan

मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था जन्म

ज़हीर खान का जन्म श्रीरामपुर के एक मध्यम वर्गीय मुस्लिम परिवार में हुआ था। उनके पिता बख़्तियार ख़ान फोटोग्राफर और मां ज़किया ख़ान शिक्षक थीं। ज़हीर ने अपनी शुरुआती पढ़ाई हिंद सेवा मंडल न्यू मराठी प्राइमरी स्कूल और उसके बाद की स्कूलिंग केजे सोमैया स्कूल से पूरी की थी। पीसीएम के स्टूडेंट ज़हीर ने स्कूलिंग खत्म होने के बाद कॉलेज की पढ़ाई के लिए मैकेनिकल इंजीनियरिंग डिग्री कोर्स में प्रवेश लिया था। लेकिन ज़हीर को क्रिकेट के प्रति जबरदस्त लगाव था। उनकी इस दीवानगी को देखकर ज़हीर के पिता 17 साल की उम्र में उन्हें मुंबई ले आए थे। मुंबई आकर ज़हीर खान ने नेशनल क्रिकेट क्लब के शुरुआती 2 सत्रों के सभी मुकाबले खेले थे।

स्टीव जॉब्स: वह शख़्स जिसने एप्पल को बनाई दुनिया की सबसे महंगी कंपनी

इस दौरान शिवाजी पार्क जिमखाना के ख़िलाफ़ फाइनल में लिए 7 विकेटों ने ज़हीर खान को सुर्खियों में ला दिया था। जिसके बाद ज़हीर को मुंबई और वेस्ट जोन की अंडर-19 टीम में सिलेक्ट कर लिया गया। उन्होंने अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत साल 1999-2000 में बड़ौदा की तरफ़ से की थी। मुंबई की टीम में जगह न मिल पाने के कारण ज़हीर ने बड़ौदा की ओर से खेलने का निर्णय लिया था। ज़हीर ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट के अपने पहले ही सत्र में शानदार गेंदबाजी से सभी का दिल जीत लिया था। वे सीजन में तीसरे सबसे सफल गेंदबाज और बाएं हाथ के सबसे सफ़ल गेंदबाज रहे। इसके बाद जल्द ही उन्हें राष्ट्रीय चयनकर्ताओं ने टीम इंडिया में शामिल कर लिया।

Zaheer-Khan-

केन्या के ख़िलाफ़ किया था वनडे में डेब्यू

ज़हीर ख़ान ने सन् 2000 में नॉकआउट कप में केन्या के ख़िलाफ़ अपना वनडे डेब्यू किया था। इसी साल उनका टेस्ट कॅरियर भी शुरु हो गया था। उन्होंने अपने कॅरियर में भारत के लिए 200 एकदिवसीय मैच खेलते हुए 282 विकेट झटके। ज़हीर ने श्रीलंका के विरूद्ध कॅरियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 42 रन देकर पांच विकेट चटकाए थे। टेस्ट क्रिकेट की बात करें तो उन्होंने टीम इंडिया के लिए 92 टेस्ट खेले हैं, जिसमें 311 विकेट अपने नाम किए हैं। टेस्ट में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 87 रन देकर सात विकेट है।

Zaheer-Khan
ज़हीर खान के नाम दर्ज़ हैं ये उपलब्धियां

पूर्व तेज गेंदबाज ज़हीर खान ने साल 2011 के विश्वकप में टीम इंडिया के मुख्य तेज गेंदबाज थे। टूर्नामेंट में उन्होंने कुल 21 विकेट झटके। इस टूर्नामेंट में वे पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी के साथ संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बने थे। वनडे में ज़हीर ख़ान सर्वाधिक विकेट लेने वाले भारत के चौथे गेंदबाज हैं। उनसे आगे अनिल कुंबले, जवागल श्रीनाथ और अजित अगरकर का नाम दर्ज़ हैं।

टेस्ट में भी सर्वाधिक विकेट लेने के मामले में ज़हीर चौथे स्थान पर हैं। अनिल कुंबले, कपिल देव और हरभजन सिंह उनसे आगे हैं। टेस्ट में ज़हीर खान के नाम 311 विकेट हैं। वे टेस्ट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय तेज गेंदबाज भी हैं। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्गज ​क्रिकेटर ग्रीम स्मिथ को सबसे ज्यादा 13 बार अपना निशाना बनाया था। ​ज़हीर और स्मिथ का 25 बार आमना-सामना हुआ था। कॅरियर में कई बार चोटों से परेशान रहे ज़हीर ने साल 2015 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

COMMENT