वर्ल्ड कप-2019: दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ 400 रन बना पाएगा भारत?

Views : 2451  |  0 minutes read

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) द्वारा इंग्लैंड में आयोजित हो रहे क्रिकेट वर्ल्ड कप-2019 की शुरुआत को करीब एक सप्ताह होने वाला है। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के इस सबसे बड़े टूर्नामेंट की शुरूआत 30 मई को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच ओपनिंग सेरेमनी मैच से हुई। अब तक टूर्नामेंट में भारत को छोड़कर सभी टीमें एक या दो मुकाबले खेल भी चुकी है। टीम इंडिया विश्व कप में अपने अभियान की शुरूआत 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाले मैच से करेगी। भारतीय टीम के सामने पहली चुनौती दक्षिण अफ्रीकी टीम को हराना है। यह मुकाबला साउथैम्प्टन के ‘द रोज बाउल’ स्टेडियम के मैदान में भारतीय समयानुसार दोपहर 3 बजे से खेला जाएगा।

chaltapurza.com

साउथैम्प्टन में दो मुकाबले खेलेगी टीम इंडिया

क्रिकेट में जब कोई भी मैच होता है तो उसमें पिच की बड़ी अहम भूमिका होती है। अच्छी पिच होने की स्थिति में बड़ा स्कोर बनाने में मदद मिलती है। साउथैम्प्टन के द रोज बाउल स्टेडियम में टीम इंडिया को वर्ल्ड कप के अपने दो मुकाबले खेलने हैं। ऐसे में इस स्टेडियम का इतिहास जानना और भी जरूरी हो जाता है। कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में भारतीय टीम यहां अपना पहला मुकाबला दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 जून को खेलेगी जबकि, 22 जून को होने वाले मैच में भारत अपने पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान से भिड़ेगा। रोज बाउल स्टेडियम में भारत ने दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान से अब तक कोई मुकाबला नहीं खेला है। लेकिन भारतीय टीम और अफ्रीकी टीम यहां अन्य टीमों के साथ पूर्व में अपने 3-3 मैच खेल चुकी हैं।

chaltapurza.com

डुप्लेसिस की कप्तानी में तीसरा मैच खेलेगी दक्षिण अफ्रीका

साउथैम्प्टन के इस मैदान पर भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच अब तक कोई मुकाबला नहीं खेला गया है। इस लिहाज से दोनों टीमें पहली बार रोज बाउल स्टेडियम में एक-दूसरे के खिलाफ उतरेंगी। विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया का टूर्नामेंट में यह पहला मुकाबला होगा, जबकि दक्षिण अफ्रीका की टीम फाफ डुप्लेसिस की कप्तानी में अपना तीसरा विश्व कप मैच खेलगी। टूर्नामेंट के इससे पहले के दोनों मैचों में उसे हार मिली है। दक्षिण अफ्रीका को अपने पहले मुकाबले में इंग्लैंड जबकि दूसरे में बांग्लादेश से हार का सामना करना पड़ा है।

chaltapurza.com

भारतीय टीम बना सकती है 400 से अधिक का स्कोर

साउथैम्प्टन के रोज बाउल स्टेडियम की पिच बल्लेबाजों के लिए मुफीद मानी जाती रही है। इस मैदान पर ज्यादातर मुकाबले में स्कोर तीन के पार पहुंच जाता है। अगर पिछले दो सालों के आंकड़े देखे तो यहां जो सबसे कम स्कोर बना है वो 288 रन है। इस मैदान पर उच्चतम टीम स्कोर 373 रन पर 3 विकेट रहा है जो इंग्लैंड ने पिछले महीने 11 मई को पाकिस्तान के खिलाफ बनाया था। ऐसे में अगर टीम इंडिया यहां पहले खेलती है तो उसके बल्लेबाजों की फौज यहां 400 रन का विशाल स्कोर भी बना सकती है।

chaltapurza.com

क्या कहते हैं स्टेडियम में प्रदर्शन के आंकड़े

सर्वाधिक स्कोर: 373/3
सबसे कम स्कोर: 65 रन, अमेरिका बनाम ऑस्ट्रेलिया, 2004
मैदान पर किसी खिलाड़ी के सबसे ज्यादा रन: 610 रन, ऑयन मॉर्गन, इंग्लैंड
सर्वाधिक व्यक्तिगत स्कोर: नाबाद 189 रन, मार्टिन गुप्टिल(न्यूजीलैंड), Vs इंग्लैंड 2013
मैदान पर लगे कुल शतक: 18, मॉर्गन और इयान बेल के नाम सर्वाधिक दो-दो शतक
सर्वाधिक विकट : 12, ग्रीम स्वान और जेम्स एंडरसन, इंग्लैंड

Read More: इंडिया Vs दक्षिण अफ्रीका मुकाबले में कौन पड़ेगा भारी, जानें क्या कहता है रिकॉर्ड?

वर्ष 2001 में बना था स्टेडियम, 90 हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था

साउथैम्प्टन के इस द रोज बाउल स्टेडियम की स्थापना सन् 2001 की गई थी। इस मैदान पर पहली बार वर्ल्ड कप का कोई मुकाबला खेला जाएगा। इस बार वर्ल्ड कप के कुल 5 मैच यहां होने जा रहे हैं। स्टेडियम की दर्शक क्षमता 92,542 लोगों की है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह इंग्लिश काउंटी क्रिकेट क्लब हैंपशायर का अपना घरेलू मैदान भी है।

COMMENT