प्रवासी मजदूरों के लौटने से इन राज्यों में लगातार बढ़ा कोरोना वायरस का ग्राफ

Views : 3058  |  3 minutes read

देश में लॉकडाउन लागू होने व महानगरों में कोरोना के कहर के बाद लाखों प्रवासी मजदूर लगातार पैदल या ट्रेन आदि वाहन से अपने घरों को लौट रहे हैं। मजदूरों के लौटने से देश के कई राज्यों में कोरोना ग्राफ लगातार बढ़ा है जिससे राज्य सरकारें चिंतित हैं। जानिये इस बारे में-

इन राज्यों में अचानक बढ़ने लगे संक्रमण के मामले

लंबे समय तक लॉकडाउन चलने व कोरोना प्रकोप से देश में लाखों मजदूर बेरोजगार हो गए हैं जिसके बाद दिल्ली, मुंबई जैसे महानगरों में कार्य करने वाले प्रवासी मजदूर अपने घरों को लौटने लगे। केंद्र सरकार की ओर से श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई जिससे मजदूर अपने गांव, घर लौटे और राजस्थान, बिहार, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक आदि राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले सामने आने लगे।

Read More: 1 जून से प्रतिदिन चलेगी 200 नॉन एसी ट्रेनें, जल्‍द शुरू होगी ऑनलाइन टिकट बुकिंग

राजस्थान में इतने प्रवासी मजदूर कोरोना संक्रमित

प्रवासी मजदूरों में कोरोना के ज्यादा मामले राजस्थान में सामने आए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक राजस्थान में 1 मई से 759 प्रवासी श्रमिक कोविड पॉजिटिव पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि संक्रमित मजदूर ज्यादातर मुंबई, गुजरात, दिल्ली से लौटे हैं। राज्य के 29 जिलों में प्रवासी मजदूर संक्रमित मिलने के आंकडे सामने आए हैं। इधर इस मामले में राजस्थान स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित सिंह ने बताया कि 11 जिलों को रेड जोन में चिंहित किया है क्यों कि इन जगहों पर कुछ दिनों में ज्यादातर प्रवासी मजदूर आने की संभावना है।

COMMENT