विंबलडन में बड़ा उलटफेर, अब तक के इतिहास की सबसे युवा खिलाड़ी कोरी गॉफ ने विश्व चैंपियन को हराया

Views : 3486  |  0 minutes read
chaltapurza.com

टेनिस की दुनिया के सबसे पुराने और प्रतिष्ठित टूर्नामेंट विंबलडन की शुरुआत के पहले ही दिन बड़ा उलटफेर हो गया। विंबलडन के ओपन एरा की सबसे युवा खिलाड़ी 15 वर्षीय कोरी गॉफ ने यह उलटफेर किया है। कोरी ने सोमवार को अपनी हमवतन और पांच बार की विंबलडन चैंपियन वीनस विलियम्स को सीधे सेटों में 6-4, 6-4 से हराकर टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखा दिया।कोरी गॉफ की वीनस पर इस शानदार जीत से वह चर्चाओं में आ गई है। गौर करने वाली बात यह है कि जब गॉफ जन्मी थीं, तब तक विलियम्स करियर के चार ग्रैंड स्लैम टाइटल अपने नाम कर चुकी थीं। इनमें दो विंबलडन जीत भी शामिल थीं। कभी टॉप टेनिस प्लेयर रही वीनस को इस टूर्नामेंट के पहले मैच में ही हार के साथ बाहर होना पड़ा है।

chaltapurza.com

वीनस की बहन को मानती है अपना आदर्श

कोरी गॉफ वर्ष 1968 में ओपन एरा शुरू होने के बाद इस टूर्नामेंट को खेलने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बन गई है। 1 जुलाई को विंबलडन क्वालिफाइंग मैच के दौरान गॉफ की उम्र 15 साल 122 दिन थी। गॉफ से जुड़ी एक और खास बात यह है कि वह 23 ग्रैंड स्लैम चैंपियन और वीनस की छोटी बहन सेरेना विलियम्स को अपना आइडियल मानती हैं। वीनस के ख़िलाफ़ मैच जीतने के बाद गॉफ खुशी के मारे कोर्ट में ही रोने लग पड़ी। उन्होंने बताया कि वीनस ने उनके पास आकर पहले जीत की बधाई दी और फिर आगे के मैचों के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

chaltapurza.com
क्वालिफाइंग मैच से पहले साइंस टेस्ट देने स्कूल गई थीं गॉफ

विंबलडन में क्वालिफाइंग मैच के एक दिन पहले कोरी गॉफ का स्कूल में साइंस टेस्ट था। कोरी ने पहले फ्लोरिडा में टेस्ट दिया, उसके बाद मैच खेलने लंदन पहुंची थी। जानकारी के लिए बता दें कि गाॅफ वर्ष 2017 में 13 साल की उम्र में यूएस ओपन के गर्ल्स कैटेगरी के फाइनल में पहुंची थीं। उस दौरान भी गॉफ मीडिया में छाई रही थी। इसके एक साल बाद उन्होंने फ्रेंच ओपन गर्ल्स सिंगल्स टाइटल जीतकर खुद को टेनिस की उभरती हुई सबसे शानदार खिलाड़ी के तौर पर पहचान दिलाई।

Read More: After Effect : 21 करोड़ी हुए शाहिद, बदल गए हालात

वर्ल्ड नंबर-2 नाओमी ओसाका पहले राउंड में बाहर

दूसरी तरफ विंबलडन में दुनिया की नंबर-2 टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका पहले ही राउंड में मैच हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई है। यूएस ओपन चैंपियन और दूसरी सीड ओसाका को गैरवरीय खिलाड़ी यूलिया पुतिन्तसेवा ने 7-6, 6-2 से हराया। विंबलडन के ओपन एरा यानी वर्ष 1968 के बाद में ऐसा पहली बार कोई वर्ल्ड नंबर-2 खिलाड़ी पहले ही राउंड में हारकर बाहर हुई है। कजाखस्तान की यूलिया की ओसाका पर लगातार दूसरी जीत है। इससे पहले, यूलिया ने बर्मिंघम क्लासिक में ओसाका को हराया था। महिला सिंगल्स के अलावा पुरुष सिंगल्स में भी एक बड़ा उलटफेर हुआ। छठी सीड एलेक्जेंडर ज्वेरेव को चेक रिपब्लिक के गैरवरीय खिलाड़ी जिरी वेस्ले ने 4-6, 6-3, 6-2, 7-5 से हराकर विंबलडन से बाहर कर दिया।

COMMENT