दिग्गज लेखक और फिल्मकार सागर सरहदी ने दुनिया को कहा अलविदा

Views : 1107  |  3 minutes read
Sagar-Sarhadi-Death

भारतीय दिग्गज नाटक लेखक और फिल्मकार सागर सरहदी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। उनका 87 साल की उम्र में रविवार को निधन हो गया। सागर सरहदी ने अपने मुंबई स्थित घर पर अंतिम सांस ली। वह पिछले लंबे समय से बीमार चल रहे थे। आपको बता दें कि सरहदी ने ‘बाज़ार’, ‘नूरी’, ‘कभी कभी’, ‘सिलसिला’, ‘चांदनी’ और ‘दीवाना’ जैसी फिल्में लिखी हैं। हाल में ज्यादा तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें एक कार्डिएक केयर अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। उन्हें हृदय संबंधी दिक्कतें थीं। इससे पहले साल 2018 में सरहदी को दिल का दौरा पड़ा था, तब भी उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

हिंदी फिल्मों के बेहतरीन कहानीकार थे सरहदी

पटकथा लेखक सागर सरहदी की गिनती हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के बेहतरीन कहानीकारों में होती है। उन्होंने बॉलीवुड की हिट फिल्में ‘सिलसिला’, ‘कभी कभी’ और ‘दीवाना’ समेत कई कहानियां लिखीं। इसके अलावा सरहदी ने फिल्म ‘बाज़ार’ का निर्देशन भी किया। इस फिल्म में स्मिता पाटिल, फारुख शेख और नसीरुद्दीन शाह ने मुख्य भूमिका निभाई थी। फिल्म को समीक्षकों की ओस से काफी सराहना मिली थी।

Sagar-Sarhadi-

फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े लोगों ने जताया शोक

दिग्गज कहानीकार और फिल्ममेकर सागर सरहदी के निधन के बाद बॉलीवुड फिल्मकार अशोक पंडित ने लिखा, ‘जानकर दुख हुआ कि मशहूर लेखक-निर्देशक सागर सरहदी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उन्होंने कई शानदार फिल्मों कभी कभी’, नूरी, चांदनी, सिलसिला और दूसरा आदमी की कहानी लिखी। सरहदी ने फिल्म ‘बाज़ार’ को लिखा और निर्देशन किया। उनका जाना फिल्म इंडस्ट्री के लिए बहुत बड़ा नुकसान है।’

जाने-माने फिल्म डिस्ट्रीब्यूटर राज बंसल ने सरहदी के निधन पर शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी और दिवंगत आत्मा के लिए शांति की प्रार्थना की। इसके आगे उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आपको ​स्क्रीप्टराइटर के रूप में फिल्म सिलसिला, कभी कभी, चांदनी जैसी फिल्मों के लेखन कार्य के लिए याद किया जाएगा।’

Read More: मशहूर पंजाबी गायक सरदूल सिकंदर का कोरोना संक्रमण से हुआ निधन

COMMENT