स्कूटर राइडिंग चैम्पियनशिप में भाग लेने वाला पहला भारतीय बना यह शख्स

04 minutes read
Syed-Asif-Scooter Rider

दुनिया में कई ऐसे खेल हैं जिनमें भारतीय अभी तक हिस्सा नहीं बन सके हैं। ऐसे खेलों में जब कोई भारतीय नागरिक भाग लेता है तो एक नया रिकॉर्ड दर्ज हो जाता है। ऐसे ही एक स्कूटर राइडर है मध्य प्रदेश के सैयद आसिफ़। इटली में 19 अक्टूबर को होने वाली स्कूटर राइडिंग चैम्पियनशिप में आसिफ़ भाग लेने जा रहे हैं। इसी के साथ वे पहले ऐसे भारतीय बन गए हैं जो स्कूटर राइडिंग चैम्पियनशिप में भाग ले रहे हैं। विश्व स्तर की इस प्रतियोगिता में 10 देशों के 36 स्कूटर राइडर्स को भाग लेने के लिए चुना गया है। इसमें भाग लेने वाले सैयद आसिफ़ एकमात्र भारतीय हैं।

Syed-Asif

सात नेशनल अवॉर्ड जीत चुके हैं आसिफ़

सैयद आसिफ़ को बचपन से साइकिल पर सवार होने और तेज दौड़ने का शौक़ था। बहुत कम उम्र में ही उन्होंने अपने पिता से पहले साइकिल मंगवाई और फ़िर बाइक की मांग रखी। साल 1996 में आसिफ़ के पिता ने उन्हें बाइक दिलवा दी। उसके उन्होंने एक प्रतियोगिता में भाग लिया और फर्स्ट नंबर पर रहे। इसके बाद आसिफ़ ने कई बार हालातों से जूझकर अपना सफ़र तय किया है। उन्होंने अब तक देश भर में 200 से ज्यादा प्रतियोगिताएं अपने नाम की है, जिसमें 7 नेशनल चैम्पियनशिप भी शामिल हैं।

दो बार बाइक दुर्घटना का हुए शिकार

सैयद आसिफ़ को जिस वर्ष पिता ने बाइक दिलाई, उसी साल वे एक बाइक दुर्घटना के शिकार हो गए थे। इस दुर्घटना में उनके हाथ में फ्रैक्चर हो गया और उनके बाएं हाथ में एक रॉड डाली गई थी। इसके कुछ वर्ष बाद उन्होंने वापसी की, लेकिन साल 2000 में हुई नेशनल राइडिंग इंडिया में आसिफ़ को हार का सामना करना पड़ा। इस हार के बाद भी आसिफ़ ने उम्मीद नहीं छोड़ी और प्रैक्टिस करते रहे। लेकिन कुछ साल बाद वे एक बार फ़िर दुर्घटना का शिकार बने और इस बार उनका पैर टूट गया था। इस कारण आसिफ़ करीब एक साल तक बिस्तर पर रहे और वापस खेल में आने की तैयारी शुरु कर दी।

Syed-Asif-Scooter-Rider

यह सैयद आसिफ़ का राइडिंग के प्रति जुनून ही था कि वे एक्सीडेंट होने के बाद भी खेल को अलविदा नहीं कह रहे थे। आसिफ़ के अनुसार, ‘मेरे एक्सीडेंट के बाद पिता ने बाइक बेच दी ताकि मैं बाइक चलाना बंद कर दूं, लेकिन बाइक राइडिंग का मेरा पैशन मुझे नहीं रोक पाया और मैंने बाइक चलाना जारी रखा। कुछ समय बाद मैंने शानदार वापसी करते हुए राज्य स्तरीय बाइक राइडिंग प्रतियोगिता में भाग लिया और फर्स्ट पोजिशन हासिल की।’

Read More: कुश्ती का शौक़ रखने वाले शंकर सिंह इस वजह से बने थे संगीतकार

स्कूटर राइडिंग को प्रोत्साहित करें सरकार

स्कूटर राइडिंग चैम्पियनशिप में भाग लेने जल्द ही इटली रवाना होने वाले सैयद आसिफ़ का कहना है कि देश में सरकार स्कूटर राइडिंग को प्रोत्साहन नहीं दे रही है, जैसे कई अन्य खेलों को दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इटली में होने वाली प्रतियोगिता में भाग लेने पर कुल 4 लाख रुपए का खर्चा आएगा। जब मैं खेल इसके खर्च के लिए खेल विभाग में गया, तो वहां से मुझे प्रोत्साहन के रूप में केवल 50 हजार रुपए दिए गए जो कि खर्च के मुकाबले में काफ़ी कम है। सरकार को चाहिए कि वे इस खेल में रुचि रखने वाले युवाओं का समर्थन करें और उन्हें अन्य खेलों की तरह प्रोत्साहन दें।

COMMENT

Chaltapurza.com, एक ऐसा न्यूज़ पोर्टल जो सबसे पहले, सबसे सटीक की भागमभाग के बीच कुछ अलग पढ़ने का चस्का रखने वालों का पूरा खयाल रखता है। हम देश-विदेश से लेकर राजनीतिक हलचल, कारोबार से लेकर हर खेल तो लाइफस्टाइल, सेहत, रिश्ते, रोचक इतिहास, टेक ज्ञान की सभी हटके खबरों पर पैनी नजर रखने की कोशिश करते हैं। इसके साथ ही आपसे जुड़ी हर बात पर हमारी “चलता ओपिनियन” है तो जिंदगी की कशमकश को समझने के लिए ‘लव यू जिंदगी’ भी कुछ अलग है। हमारी टीम का उद्देश्य आप तक अच्छी और सही खबरें पहुंचाना है। सबसे अच्छी बात यह है कि हमारे इस प्रयास को निरंतर आप लोगों का प्यार मिल रहा है…।

Copyright © 2018 Chalta Purza, All rights Reserved.