सनी देओल ने रियल लाइफ में भी एक बार गुंड़ों की जमकर की धुनाई, पढ़ें पूरा किस्सा

Views : 698  |  4 minutes read
Sunny-Deol

हिंदी फिल्मों के सुप्रसिद्ध अभिनेता सनी देओल 19 अक्टूबर को अपना 65वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। भारतीय सिनेमा में एक दौर ऐसा भी था, जब सिने-दर्शक पर्दे पर सनी की फिल्मों का बेसब्री से इंतजार किया करते थे। फिल्मी पर्दे पर अपनी पावरफुल परफॉर्मेंस से सनी ने कई दशकों तक दर्शकों के दिलों पर राज किया। हालांकि, अब सनी बहुत ही कम फिल्मों में नज़र आते हैं। साल 2019 के आम चुनावों में उन्होंने राजनीति में भी अपना भाग्य आजमाया और पहली बार में ही सांसद बनकर संसद पहुंचने में सफ़ल रहे। उन्होंने हाल में दशहरा के अवसर पर अपनी बेहद पॉपुलर फिल्म ‘गदर’ का पार्ट-2 बनाने का भी ऐलान किया है। आइए जानते हैं सनी देओल के जीवन के बारे में कुछ अनसुने किस्से…

Actor-Sunny-Deol-

इंग्लैंड जाकर सीखी एक्टिंग की बारीकियां

अभिनेता सनी देओल का जन्म 19 अक्टूबर, 1956 को पंजाब प्रांत के लुधियाना स्थित साहनेवाल में अभिनेता धर्मेंद्र और प्रकाश कौर के घर हुआ था। उनका असल नाम अजय सिंह देओल हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री व भाजपा सांसद हेमा मालिनी रिश्ते में उनकी सौतेली मां हैं। सनी ने अपनी स्कूली पढ़ाई महाराष्ट्र की सेक्रेड हार्ट बॉयज हाई स्कूल से कीं। इसके बाद उन्होंने कॉलेज की पढ़ाई मुंबई के रामनिरंजन आनंदीलाल पोदार कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स से पूरी की। घर में फिल्मी माहौल होने के कारण सनी का रुझान अभिनय में हो गया। बॉलीवुड में कॅरियर बनाने के लिए उन्होंने इंग्लैंड स्थित बर्मिंघम (ओल्ड वर्ल्ड थियेटर) से एक्टिंग की बारिकियां ​सीखीं।

Sunny-Deol

फिल्म ‘बेताब’ से बॉलीवुड में रखा कदम

वर्ष 1983 में आई बॉलीवुड फिल्म ‘बेताब’ से सनी देओल ने अपने एक्टिंग कॅरियर की शुरुआत की थी। इस फिल्म में उनके अपोजिट अभिनेत्री अमृता सिंह थी। सनी की पहली ही फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा कारोबार किया था। फिल्म में सनी अपने अभिनय से दर्शकों और क्रिटिक्स का दिल जीतने में कामयाब रहे। वर्ष 1985 में सनी की फिल्म ‘अर्जुन’ रिलीज हुई जो बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुईं। सनी बेहद कम समय में ही फिल्म इंडस्ट्री में एक मुकाम हासिल करने में कामयाब रहे। फिल्म ‘अर्जुन’ की कामयाबी के बाद सनी देओल ने ‘चालबाज’, ‘यतीम’, ‘वर्दी’, ‘चालबाज’, ‘सल्तनत’ जैसी कई हिट फिल्में कीं।

Sunny-Deol-

ये हैं सनी की कुछ बेहतरीन फिल्में

अभिनेता सनी देओल को हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में उनकी दमदार फिल्मों की वजह से याद किया जाता है। बॉलीवुड में सनी ने ‘बेताब’, ‘घायल’, ‘घातक’, ‘तीसरी आँख’, ‘जो बोले सो निहाल’, ‘जानी दुश्मन’, ‘फर्ज’, ‘गदर’, ‘हिम्मत’, ‘दामिनी’, ‘जिद्दी’,का’फिला’, ‘यमला पगला दीवाना’, जैसी सुपरहिट फिल्में की हैं। इन फिल्मों ने उनको स्टारडम दिलाने में अहम भूमिका निभाई है।

Sunny-Deol-Wife-and-Son

अभिनेत्री डिंपल कपाड़िया के साथ जुड़ा नाम

अगर निजी जिंदगी की बात करें तो सनी देओल का फिल्मी सफर के दौरान उनका नाम मशहूर अदाकारा डिंपल कपाड़िया के साथ जुड़ा। दोनों के अफेयर की खबरें भी काफी आईं। इससे पहले करियर की शुरुआत में अमृता सिंह के साथ भी सनी का रिश्ता रहा। वहीं, सनी देओल की शादी पूजा देओल से हुई है। इस शादी से उन्हें दो बेटे करण और राजवीर देओल हैं। सनी देओल का छोटा भाई बॉबी देओल भी ​अभिनेता हैं। जबकि उनकी दो सगी बहनें अजीता और विजिता व दो सौतेली बहनें ईशा देओल व अहाना देओल हैं।

Sunny-Deol-BJP

भाजपा के टिकट पर जीता सांसद का चुनाव

बॉलीवुड अभिनेता सनी देओल ने साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव से अपने राजनीति सफर की शुरुआत की। उन्होंने चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ज्वॉइन कीं। भाजपा ने उन्हें पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से टिकट देकर मैदान में उतारा। सनी चुनाव जीतने में कामयाब रहे और लोकसभा में पहली बार पहुंचे। सनी वर्तमान में गुरदासपुर सांसद हैं। मालूम हो कि सनी की सौतेली मां हेमा मालिनी भी मथुरा से लगातार दूसरी बार भाजपा सांसद हैं। इससे पहले उनके पिता धर्मेंद्र भी भाजपा के टिकट पर बीकानेर सांसद रहे थे।

Sunny-Deol-

पेट्रोल पंप पर गुंड़ों के साथ हो गया था झगड़ा

फिल्मों में ढेर सारे गुंडों को उठा-उठाकर पटकने वाले सनी देओल को एक बार असल जिंदगी में भी गुंडों का सामना करना पड़ा था। इस बात का खुलासा उनके भाई अभिनेता बॉबी देओल ने कॉमेडियन कपिल शर्मा के शो में किया था। बॉबी देओल ने बताया कि एक बार सनी देओल अपने कुछ दोस्तों के साथ एक पेट्रोल पंप तेल भरवाने के लिए पर रुके हुए थे। इस दौरान उन्हें 3-4 गुंडों ने घेर लिया और उनसे झगड़ा करने लगे। सनी देओल ने उन सभी गुंडो का अकेले ही सामना किया था। इस दौरान उनका कोई भी दोस्त कार से निकलकर बाहर नहीं आया। सनी ने अकेले ही गुंडों की जमकर धुनाई की थी।

Read Also: ओम पुरी ने अभिनय करने के लिए छोड़ दी थी अपनी सरकारी नौकरी

COMMENT