देश में अब तक ‘ओमिक्रॉन’ के 327 केस सामने आए, तेजी से बढ़ते मामलों ने बढ़ाई सरकार की चिंता

Views : 679  |  3 minutes read
Omicron-Cases-India

देश में कोरोना के नए वैरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ की बढ़ती रफ्तार ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। इस को लेकर जहां स्वास्थ्य मंत्रालय में बैठकों का दौर जारी है, वहीं आज यानी गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने देश में कोरोना की स्थिति को लेकर अधिकारियों की बैठक बुलाई। इसके अलावा आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी बैठक की। उम्मीद जताई जा रही है कि दिल्ली के लिए वे नए दिशा-निर्देश जारी करेंगे। इस बीच ओमिक्रॉन वैरिएंट से संक्रमित होने वाले मरीजों की कुल संख्या अब देश में 327 हो गई है।

तमिलनाडु में ‘ओमिक्रॉन’ विस्फोट

इनमें महाराष्ट्र में सबसे अधिक 88, दिल्ली में 57, तमिलनाडु में 34, तेलंगाना में 24, राजस्थान में 22, कर्नाटक में 31 के साथ ही हरियाणा में पहला केस सामने आया है। वहीं गुजरात में बुधवार को ओमिक्रॉन के नौ मामले सामने आए हैं। गुजरात में कुल 30 केस दर्ज हो चुके हैं। केरल (29), उत्तर प्रदेश में (2) मामले हैं। आंध्र प्रदेश में दो मामले, पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड और चंडीगढ़ में एक-एक मामला है। तमिलनाडु में ओमिक्रोन के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 34 हो गई है। तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री एम.ए.सुब्रमण्यम ने इसकी जानकारी दी है। बता दें कि बुधवार तक तमिलनाडु में केवल एक मामला था लेकिम एक दिन में अचानक मामले बढ़ गए।
भारत में बीते 24 घंटे में कोरोना के 7495 मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के गुरुवार के आंकड़े के मुताबिक भारत में बीते 24 घंटे में कोरोना के 7495 नए मामले सामने आए हैं और 434 लोगों की मौत हो गई है। इस दौरान 6,960 लोग स्वस्थ भी हो गए। वहीं बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, 24 घंटे के अंदर देश में 6,317 नए कोरोना मरीज सामने आए और 318 लोगों की मौत हुई।

60 फीसदी वयस्क आबादी का संपूर्ण टीकाकरण

स्वास्थ्य मंत्री ने बड़ी जानकारी देते हुए बताया कि 60 फीसदी वयस्क आबादी को पूरी तरह से टीका लगा दिया गया है। आपको बता दें कि ब्रिटेन में ओमिक्रॉन का कहर बढ़ता ही जा रहा है। देश में कोरोना के इस नए वैरिएंट से अब तक 14 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, चीन में बीते 24 घंटे में कोरोना के 100 नए मामले सामने आए हैं जो कि पिछले दिनों की तुलना में 23 अधिक हैं। हालांकि, चीन को भी आशंका है कि आगामी ओलंपिक के कारण यहां संक्रमितों की संख्या बढ़ सकती है।

सरकार ने ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर 31 जनवरी तक बढ़ाई रोक

COMMENT