सिल्क स्मिता ने अपनी बी-ग्रेड फिल्मों के जरिए 70-80 के दशक में मचाया हंगामा, मौत अबतक भी है मिस्ट्री

Views : 3194  |  4 minutes read
Silk-Smitha-Biography

बी-ग्रेड फिल्मों की सेंसेशन कही जाने वाली सिल्क स्मिता उर्फ विजयलक्ष्मी को ये दुनिया छोड़े 20 से भी ज्यादा साल गुजर चुके हैं। मगर अपनी डेथ मिस्ट्री को लेकर वह आज भी सिनेमाई दुनिया में ज़िंदा हैं। आज सिल्क स्मिता की 61वीं जयंती है। उनका जन्म 2 दिसंबर, 1960 को आंध्र प्रदेश के गोदावरी जिले के एलुरू में एक बेहद गरीब परिवार में हुआ था।। उन्हें 10 साल की उम्र में कक्षा 4 में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ गई थी। साउथ फिल्मों में जाना पहचाना नाम रही सिल्क ने अपने 17 साल के फिल्मी कॅरियर में साढ़े चार सौ से ज्यादा फिल्मों में काम करके तहलका मचा दिया था। ऐसे में सिल्क स्मिता की जयंती के मौके पर जानते हैं कुछ ख़ास बातें..

शादी से दूर जाने के बाद कॉलीवुड जा पहुंची सिल्क

सिल्क जब बड़ी हुई तो उनका भरा-पूरा शरीर काफी आकर्षक लगने लगा। अलहड़ जवानी में सिल्क पुरुषों का ध्यान खींचने लगीं। यही वजह थी कि उनकी मां ने उनकी शादी एक रिक्शेवाले से कर दी। मगर सिल्क अपनी शादीशुदा जिंदगी से कतई खुश नहीं थी। शादी से दूर जाने के बाद सिल्क कॉलीवुड जा पहुंची। जहां उन्होंने अपने गुजर बसर के लिए एक नवोदित अभिनेत्री के घर नौकरानी के रुप में काम करने लगी। सिल्क बचपन से ही ग्लैमर दुनिया की चाह रखती थी। अपने सपने को साकार करने के लिए सिल्क ने अपनी मनमोहक जिस्म और रुमानी अदाओं का इस्तेमाल करने में जरा भी नहीं हिचकिचाई।

सिने पर्दे पर शुरुआती दौर

सिल्क ने अपने सिने कॅरियर की शुरुआत साल 1979 में आई मलयालम फिल्म ‘इनाय तेडी’ से की। जो की एक बीग्रेड फिल्म थी। इस फिल्म के बाद सिल्क की इसी साल तमिल फिल्म ‘वंडी चक्रम’ आई जिसने सिने पर्दे पर तहलका मचा कर रख दिया। इस फिल्म से सिल्क को जबरदस्त लोकप्रियता मिली। इसके बाद ही बीग्रेड फिल्मों की दुनिया को एक नया चेहरा  मिल गया।

‘सिल्क’ ने बनाया बीग्रेड सुपरस्टार

अपनी बीग्रेड फिल्मों के जरिए सिल्क ने 70-80 के दशक में जबरदस्त हंगामा मचाया। सिल्क को असल पहचान फिल्म सिलुक्कारतु से मिली। जिसमें उनका किरदार सिलुक्कू था। फिल्म की कामयाबी के बाद यह सिल्क बन गया और विजयलक्ष्मी का नाम सिनेमा में सिल्क पड़ गया।

डॉक्टर संग की दूसरी शादी

पहली शादी टूटने और बीग्रेड फिल्मों में तहलका मचाने के बाद स्मिता ने मद्रास में में एक डॉक्टर से शादी की। जिसने उन्हें फिल्म निर्माण में हाथ आजमाने की सलाह दी। मगर सिल्क इसमें कामयाबी हासिल नहीं कर पाई और पैसा डूबने के कारण वह डिप्रेशन में चली गई। मगर कुछ समय बाद वह इससे उभर भी आई। शोहरत की बुलंदियों को छूने वाली सिल्क के साथ आखिर ऐसा क्या हुआ कि उन्होंने मौत को गले लगाना बेहतर समझा। उनकी मौत की गुत्थी आज भी अनसुलझी ही रही। 23 सितंबर,1996 को सिल्क ने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उनकी मौत से उनके फैंस और फिल्म इंडस्ट्री सकते में थी। पुलिस जांच चली मगर उनकी मौत की असल वजह सामने नहीं आ सकी।

सिल्क की कहानी फिल्मी पर्दे पर

सिल्क की निजी जिंदगी फिल्मी दुनिया से कम नहीं थी। बॉलीवुड की फेमस फिल्म निर्माता एकता कपूर ने साल 2011 में डर्टी पिक्चर फिल्म बनाई। जो सिल्क स्मिता की जिंदगी पर आधारित थी। इस फिल्म को एकता ने सिल्क के जन्मदिन 2 दिसंबर को ही रिलीज की गई। सिल्क की जिंदगी पर बनी यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट फिल्म साबित हुई। फिल्म में सिल्क स्मिता का किरदार विद्या बालन ने निभाया था।

COMMENT