कोरोना से बचाव के लिए राजस्थान में धारा 144, रेलवे ने रद्द की 168 ट्रेनें

Views : 580  |  3 minutes read

राजस्थान में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव को लेकर देर रात मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में आयोजित एक बैठक में पूरे प्रदेश में धारा 144 लगाने का निर्णय लिया गया। राजस्थान में कोरोना के तीन और नए मामले सामने आए हैं। दूसरी तरफ कोरोना के खतरे व ट्रेनों में यात्रियों की कमी को देखते हुए भारतीय रेलवे ने 31 मार्च तक करीब 168 ट्रेनों को रद्द भी कर दिया है।

संक्रमण से बचाने के लिए राजस्थान में 31 मार्च तक धारा 144

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार देर रात मुख्यमंत्री कार्यालय में एक उच्च स्तरीय बैठक लेकर वायरस के संक्रमण से लोगों के बचाव के लिए पूरे राजस्थान में प्रथम चरण में 31 मार्च तक धारा 144 लागू किए जाने के निर्देश दिए हैं। गहलोत ने संक्रमण से बचाव के उपायों की समीक्षा की और आला अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। बैठक में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा, मुख्य सचिव डीबी गुप्ता, चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया, शासन सचिव आपदा प्रबंधन सिद्धार्थ महाजन, सूचना एवं जनसम्पर्क आयुक्त महेन्द्र सोनी, राजस्थान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. राजाबाबू पंवार, एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. सुधीर भण्डारी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

इटली से झुंझुनूं लौटे तीन लोग कोरोना संक्रमित होने से हड़कंप

राजस्थान में गत दिवस बुधवार को इटली यात्रा कर झुंझुनूं लौटे तीन लोग कोरोना पॉजिटिव मरीज ​पाए गए हैं। पिता,पत्नी व 2 साल की बच्ची में कोरोना की पुष्टि हुई है जिनका झुंझुनूं के अस्पताल में ही अब उपचार किया जा रहा है।

रोगियों के घर के आसपास 1 किलोमीटर क्षेत्र में कर्फ्यू

बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमित तीनों 8 मार्च को इटली से दिल्ली एयरपोर्ट उतरे थे और सडक मार्ग से झुंझुनूं पहुंचे थे। चौंकाने वाली बात यह है कि ये संक्रमित होने के बाद भी 10 दिनों तक शहर में विभिन्न जगहों तक घूमते रहे और इस दौरान इनके संपर्क में कई लोग आए। जिला प्रशासन ने रोगियों के घर के आसपास 1 किलोमीटर क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने के आदेश दिए गए हैं और लोगों को घरों में ही रहने के लिए भी कहा गया है।

Read More: कोरोना असर से ई-कॉमर्स कंपनियों को फायदा, इस तरह 30 प्रतिशत तक बढ़ी बिक्री

रेलवे ने रद्द की 168 ट्रेन, मिलेगा 100 प्रतिशत रिफंड

कोरोना के पूरे देश में संभावित खतरे व रेल यात्रियों की कमी को देखते हुए भारतीय रेलवे ने 20 मार्च से 31 मार्च तक 168 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। हालांकि रेलवे का कहना है कि रद्द ट्रेनों के लिए कोई कैंसिलेशन चार्ज नहीं वसूला जाएगा और कैंसल ट्रेनों के यात्रियों को 100 प्रतिशत रिफंड पैसा भी मिल जाएगा।

COMMENT