राजस्थान सरकार ने जयपुर, कोटा और जोधपुर को दिया ये बड़ा तोहफ़ा

Views : 1984  |  0 minutes read
two-municipal-rajasthan

राजस्थान में होने वाले निकाय चुनावों में अभी कुछ समय बाक़ी है। इससे पहले राजस्थान सरकार ने एक और चौंकाने वाला निर्णय लिया है। सरकार की अधिसूचना के अनुसार, अब जयपुर, कोटा और जोधपुर में एक नहीं बल्कि दो-दो महापौर होंगे। इसका मतलब है कि इन तीनों शहरों को 2-2 हिस्सों में बांटा जाएगा और हर शहर में दो नगर निगम होंगे। राज्य की राजधानी जयपुर में दो नगर निगम में से पहला हेरिटेज निगम कहलाएगा, जबकि दूसरे को ग्रेटर जयपुर नगर निगम नाम दिया गया है। सरकार के यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल का कहना है कि इन तीनों शहरों में जनसंख्या 10 लाख से ज्यादा हो गई है। ऐसे में वार्ड क्षेत्र बड़ा होने से पार्षद अपने एरिया में विकास कार्यों को बेहतर तरीके से नहीं करा पाते हैं।

इस तरह से होगा जयपुर में वार्डों का विभाजन

जानकारी के अनुसार जयपुर में करीब 250 वार्ड होंगे। हेरिटेज निगम में परकोटे के आस-पास के 100 वार्ड और बाकी 150 वार्ड ग्रेटर नगर निगम में आएंगे। इनमें पहला नवगठित नगर निगम, जयपुर हेरिटेज होगा। इसमें सिविल लाईंस, आदर्श नगर, किशनपोल, हवालमहल व आमेर विधानसभा क्षेत्र में आने वाले 100 वार्ड शामिल किए जाएंगे। वहीं, दूसरा नगर निगम, ग्रेटर जयपुर होगा। इसमें सांगानेर, मालवीय नगर विद्याधर नगर, झोटवाड़ा और बगरू विधानसभा क्षेत्र में आने वाले 150 वार्ड शामिल होंगे। वार्डों की सीमा का प​रिसीमन कार्य भी जल्द ही शुरु किया जाएगा।

इन तीनों शहरों में नवम्बर में नहीं हो सकेंगे चुनाव

तीनों शहर जयपुर, कोटा और जोधपुर के छह नगर निगम क्षेत्रों में फिर से वार्डों की सीमा का परिसीमन होगा। ऐसे में इन तीनों शहर जयपुर, कोटा और जोधपुर में नवम्बर माह में होने वाले नगर निकाय के चुनाव समय पर नहीं हो सकेंगे। राज्य के बाक़ी शहरों में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नवम्बर में निकाय चुनाव कराए जाएंगे। इन तीनों बड़े शहरों के अलावा राज्य में बाकी जगह निकाय चुनाव तय समय पर सम्पन्न होंगे।

ब्लू सिटी के नाम से मशहूद जोधपुर में भी दो नगर निगम बनाए जाएंगे। इन्हें 80-80 वार्डों में विभाजित किया जाएगा। शुक्रवार को स्वायत्त शासन मंत्री शांतिलाल धारीवाल ने एक प्रेस कॉफ्रेंस की और अचानक इस संबंध में घोषणा करते हुए सभी को चौंका दिया था। मंत्री धारीवाल ने कहा कि गत जून और अगस्त माह में जयपुर, जोधपुर और कोटा में परिसीमन कर वार्ड बढ़ाए गए थे।

टेस्ट मैच: अंतिम टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका को हराकर ये दो धमाके कर सकता है भारत

राज्य सरकार ने अब उस नोटिफिकेशन को विसर्जित कर दिया है, अब जल्द ही नया नोटिफिकेशन जारी होगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कोटा में नगर निगम कोटा उत्तर और नगर निगम कोटा दक्षिण होंगे। उत्तर कोटा में 70 और दक्षिण कोटा में 80 वार्डों को शामिल किया जाएगा। वहीं, जोधपुर में नगर निगम जोधपुर उत्तर और नगर निगम जोधपुर दक्षिण होंगे। इन दोनों निगम में 80-80 वार्ड शामि किए जाएंगे।

COMMENT