पीएम मोदी ने जेएनयू परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का किया अनावरण, युवाओं के लिए कही ये बात

Views : 1139  |  3 minutes read
Swami-Vivekananda-Statue-JNU

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जेएनयू में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। कार्यक्रम में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ भी उपस्थित रहे। इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरी कामना है कि जेएनयू में लगी स्वामी जी की ये प्रतिमा, सभी को प्रेरित करे, ऊर्जा से भरे। ये प्रतिमा वो साहस दे, जिसे स्वामी विवेकानंद प्रत्येक व्यक्ति में देखना चाहते थे।

ये प्रतिमा वो करुणाभाव सिखाए, दया सिखाए, जो स्वामी जी के दर्शन का मुख्य आधार है। उन्होंने कहा कि ये प्रतिमा देश को युवाओं के नेतृत्व वाले विकास के विजन के साथ आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करे, जो उनकी अपेक्षा रही है। ये प्रतिमा हमें स्वामीजी के सशक्त-समृद्ध भारत के सपने को साकार करने की प्रेरणा देती रहे।

भारत का युवा दुनियाभर के लिए ब्रांड एंबेसडर

पीएम मोदी ने कहा कि देश का युवा दुनियाभर में ‘ब्रांड इंडिया’ का ब्रांड एंबेसडर हैं। उन्होंने कहा, हमारे युवा भारत की संस्कृति और परंपराओं का प्रतिनिधित्व करते हैं। आपसे अपेक्षा सिर्फ हजारों वर्षों से चली आ रही भारत की पहचान पर गर्व करने भर की ही नहीं है, बल्कि 21वीं सदी में भारत की नई पहचान गढ़ने की भी है। प्रधानमंत्री ने कहा कि अतीत में हमने दुनिया को क्या दिया, ये याद रखना और ये बताना हमारे आत्मविश्वास को बढ़ाता है। इसी आत्मविश्वास के बल पर हमें भविष्य पर काम करना है। 21 वीं सदी की दुनिया में भारत क्या योगदान देगा, ये हम सभी का दायित्व है।

भारत को हर प्रकार से बेहतर बनाने का संकल्प

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज सिस्टम में जितने रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं, उनके पीछे भारत को हर प्रकार से बेहतर बनाने का संकल्प है। आज हो रहे रिफॉर्म्स के साथ नीयत और निष्ठा पवित्र है। आज जो रिफॉर्म्स किए जा रहे हैं, उससे पहले एक सुरक्षा कवच तैयार किया जा रहा है। इस कवच का सबसे बड़ा आधार है- विश्वास। पीएम मोदी ने कहा कि इस कैंपस में एक लोकप्रिय जगह है- साबरमती ढाबा, आज तक आपके विचार की, डिबेट की, चर्चा की जो भूख साबरमती ढाबा में मिटती थी। अब आपके लिए स्वामी जी की इस प्रतिमा की छत्र-छाया में एक और जगह मिल गई है।

Read More: 11 राज्यों की 58 सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा ने 41 पर जीत दर्ज की

COMMENT