योग दिवस पर पीएम मोदी ने M-Yoga एप लॉन्च करने की घोषणा की, भारत और  WHO ने मिलकर किया है तैयार

Views : 1701  |  3 minutes read
M-Yoga-App-Launch

भारतीय योग पद्धति का लाभ आज पूरी दुनिया उठा रही है। बहुत कम समय में यह दुनियाभर में बेहद पॉपुलर हो गया है। इस बार 21 जून को दुनिया सातवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मना रही है। इस खास मौके पर भारत की ओर से दुनिया को एक और सौगात दी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अपने संबोधन में M-Yoga एप लॉन्च करने की घोषणा की। जानकारी के अनुसार, इस एप के जरिये दुनिया की अलग-अलग भाषाओं में योग सिखाया जाएगा। भारत ने M-Yoga एप को विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि WHO के साथ मिलकर तैयार किया है।

भारत ने यूएन, WHO के साथ मिलकर महत्वपूर्ण कदम उठाया

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर देशवासियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब भारत ने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था, तो उसके पीछे यही भावना थी कि ये योग विज्ञान पूरे विश्व के लिए सुलभ हो। उन्होंने कहा कि आज इस दिशा में भारत ने संयुक्त राष्ट्र, डब्ल्यूएचओ के साथ मिलकर एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। अब विश्व को M-Yoga एप की शक्ति मिलने जा रही है। इस एप में कॉमन योग प्रोटोकॉल के आधार पर योग प्रशिक्षण के कई वीडियोज दुनिया की अलग-अलग भाषाओं में उपलब्ध कराए जाएंगे।

अलग-अलग देशों में योग के प्रसार में मदद करेगा एप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, M-Yoga एप में योग को लेकर आसान प्रोटोकॉल समझाई जाएंगी, ताकि अलग-अलग देशों में योग का प्रसार हो सके। इस एप में योग को लेकर वीडियोज जारी किए जाएंगे, जो अलग-अलग भाषा में होंगे। आपको जानकारी के लिए बता दें कि भारत की पहल पर दिसंबर, 2014 में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मान्यता मिली और 21 जून, 2015 को पहली बार दुनियाभर में यह दिवस मनाया गया। इसके बाद से ही दुनियाभर में योग को लेकर खासा उत्साह बढ़ गया है। योग अब अलग-अलग देशों में दैनिक जीवन का हिस्सा बनता जा रहा है। यहां तक कि यह अब हजारों लोगों का प्रोफेशनल कॅरियर भी बन गया है।

प्रधानमंत्री ने कोरोना योद्धाओं के लिए छह क्रैश कोर्स की शुरुआत की, एक लाख लोग होंगे कौशल लैस

COMMENT