प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना योद्धाओं के लिए छह क्रैश कोर्स की शुरुआत की, एक लाख लोग होंगे कौशल लैस

Views : 963  |  3 minutes read
Crash-Courses-For-Corona-Warriors

केंद्र सरकार ने देश के कोरोना योद्धाओं को सम्मान और प्रोत्साहन देने के लिए नये प्रोग्राम की शुरुआत की है। दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के 26 राज्यों के 111 ट्रेनिंग सेंटरों से कोविड-19 हेल्थकेयर फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए विशेष रूप से तैयार प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया। केंद्र सरकार के इस नये प्रोग्राम के तहत देशभर के एक लाख कोरोना योद्धाओं को कौशल से लैस करने की योजना है। इस प्रोग्राम के तहत फ्रंटलाइन वर्कर्स को नई चीजें सिखाई जाएंगी। प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा इस बारे में जानकारी साझा की गई।

दो से तीन महीने में ही पूरा हो जाएगा कोर्स

इस कार्यक्रम की शुरुआत के मौके पर अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने देश की जनता से कहा कि हर सावधानी के साथ आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए हमें देश की तैयारियों को और बढ़ाना होगा। इसी लक्ष्य के साथ देश में करीब एक लाख फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स तैयार करने का महाअभियान शुरु हो रहा है। उन्होंने कहा कि ये कोर्स दो से तीन महीने में ही पूरा हो जाएगा, इसलिए ये लोग तुरंत काम के लिए उपलब्ध भी हो जाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना योद्धाओं का विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरा होने के बाद उम्मीदवार डीएससी/एसएसडीएम की व्यवस्था के तहत प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, स्वास्थ्य सुविधाओं और अस्पतालों में काम कर सकेंगे।

प्रोग्राम के तहत कोरोना योद्धाओं को को मिलेंगे ये लाभ

पीएम मोदी ने कहा कि फ्रंटलाइन वर्कर्स के विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत, उम्मीदवारों को निःशुल्क ट्रेनिंग, स्किल इंडिया का सर्टिफिकेट, भोजन व आवास सुविधा, काम पर प्रशिक्षण के साथ स्टाइपेंड और प्रमाणित उम्मीदवारों को दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा प्राप्त होगा। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में हम लोगों ने देखा कि इस वायरस का बार बार बदलता स्वरूप किस तरह की चुनौतियां हमारे सामने ला सकता है। ये वायरस हमारे बीच अभी भी है और इसके म्यूटेड होने की संभावना भी बनी हुई है। उन्होंने कहा कि इस अभियान से कोविड से लड़ रही हमारी हेल्थ सेक्टर की फ्रंटलाइन फोर्स को नई ऊर्जा भी मिलेगी और हमारे युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी बनेंगे।

Read More: केंद्र सरकार ने आयात शुल्क घटाया, 19 फीसदी तक सस्ते होंगे खाद्य तेल

COMMENT