शुरू हो गई 31 दिसम्बर की तैयारियां, होटल्स का किराया 11 लाख तक पहुंचा

Views : 3648  |  0 minutes read

नए साल का स्वागत हमेशा काफी धूम धाम से होता है। 31 दिसम्बर की रात हर होटल में एक अलग ही माहौल होता है। होटल्स में न्यू ईयर पार्टी का रंग कुछ अलग ही होता है। शायद यही वजह है कि इस दिन हर होटल बुक होता है और किराया भी आसमान छूता है। इस साल भी न्यू ईयर के लिए प्लानिंग हो चुकी है। होटल्स का किराया बढ़ चुका है लेकिन यदि आप शाही अंदाज में नए साल का स्वागत करना चाहते हैं तो आपको 11 लाख रुपए तक देने पड़ सकते हैं। जी हां, राजस्थान के शाही होटल्स में सेलिब्रेशन के लिए आपको काफी खर्चा करना पड़ेगा। जोधपुर का उम्मेद भवन पैलेस हो या उदयपुर का ताज लेक पैलेस, राजसी ठाट-बाट वाले इन होटलों ने एक रात का किराया 11 लाख रुपये तक कर दिया है।

दरअसल, नए साल के जश्न के लिए राजस्थान के होटलों एवं रिजॉर्टों में बुकिंग की इतनी डिमांड आ रही है कि किराया आसमान छूने लगा है। 31 दिसंबर के लिए किराया तो रिकॉर्ड हाई पर पहुंच चुका है। जयपुर के ताज रामबाग पैलेस के एक सूत्र ने बताया, ‘वैसे भी सामान्य कमरों के मुकाबले इन एक्सक्लूसिव सूइट्स का किराया बहुत ज्यादा रहता है, लेकिन 31 दिसंबर जैसे मौकों पर इसमें और वृद्धि हो जाती है। इस वर्ष नवंबर महीने के मुकाबले किराया 40 प्रतिशत तक बढ़ चुका है।’

दरअसल, अमीर वर्ग नए साल की बेहद भव्य शुरुआत करना चाहता है। जयपुर के रामबाग पैलेस में 8.52 लाख रुपये की दर पर कमरा उपलब्ध है। इसमें टैक्स जुड़ा हुआ नहीं है। पिछले वर्ष के मुकाबले रामबाग पैलेस ने अपना किराया 7 प्रतिशत बढ़ाया है। हालांकि, इस दर पर उपलब्ध कमरे पूरे होटल का महज 10 प्रतिशत हिस्सा हैं। दूसरे होटलों में भी लग्जरी सूइट्स का प्रतिशत इसी के आसपास होता है। इन सूइट्स का औसत किराया 25 से 70 हजार रुपये तक होता है।

आईटीसी राजपुताना के जनरल मैनेजर शेखर सावंत के अनुसार, ‘राजस्थान जितने महंगे होटल और रिजॉर्ट देश में बहुत कम जगहों पर पाए जाते हैं। लोग नए वर्ष के स्वागत के लिए राजस्थान में रिजॉर्ट्स समेत अन्य आलिशान स्थलों का चुनाव करते हैं। ऐसे लोगों के लिए पैसा बहुत मायने नहीं रखता है। उन्हें सिर्फ आनंद, निजता एवं सुविधाएं चाहिए होती हैं।’ यही वजह है कि नववर्ष के मौके पर होटलों एवं रिजॉर्ट्स के 90 प्रतिशत कमरे बुक हो चुके हैं।

COMMENT