पैकेज: MSME को 3 लाख करोड़ का लोन, आयकर रिटर्न तारीख 30 नवंबर तक बढ़ी

Views : 3076  |  3 minutes read

पीएम नरेंद्र मोदी की कल 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा के बाद आज बुधवार शाम वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस आर्थिक पैकेज से जुड़ी जानकारियां दी। इस पैकेज में MSME को बिना गारंटी के 3 लाख करोड़ का लोन दिया जाएगा और आयकर रिटर्न की तारीख 30 नवंबर तक बढ़ा दी गई है। जानिये पैकेज से जुडी अन्य घोषणाओं के बारे में विस्तार से-

सरकार ने इन क्षेत्रों के लिए आज की घोषणाएं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार शाम को पहले दिन विशेष आर्थिक पैकेज घोषणा के तहत एमएसएमई, एनबीएफसी, डिस्कॉम, एमएफआई, टैक्स, रियल एस्टेट और कॉन्ट्रैक्टर्स को बडी राहत देते हुए घोषणाएं की हैं।

बिना गारंटी MSME को मिलेगा 3 लाख करोड़ का लोन

वित्त मंत्री ने कहा कि इस विशेष आर्थिक पैकेज के तहत MSME को बिना गारंटी के 3 लाख करोड़ का लोन दिया जाएगा और यह लोन 4 साल की अवधि के लिए होगा। इस लोन को चुकाने के लिए 10 महीने तक छूट मिलती रहेगी और 31 अक्टूबर 2020 तक इस लोन के लिए आवेदन किया जा सकता है। इस घोषणा से 45 लाख एमएसएमई को फायदा मिल पाएगा।

Read More: जीवन बीमाधारकों को फिर मिली राहत, 31 मई तक जमा हो सकेगा मार्च का प्रीमियम

रिटर्न भरने की अंतिम तिथि बढ़ाई

सरकार ने राहत देते हुए आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तिथि को बढ़ाते हुए 30 नवंबर 2020 तक कर दिया है वहीं विवाद से विश्‍वास स्‍कीम की डेडलाइन को भी 31 दिसंबर 2020 तक किया गया है जो पहले 30 जून तक थी।

रियल एस्टेट के लिए भी दी राहत

सरकार ने रियल एस्टेट सेक्टर के लिए भी बडी राहत दी है और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस वार्ता में कहा कि निर्माण कार्य के लिए छह महीने तक का एक्सटेंशन दिया है और एडवाइजरी जारी की जाएगी कि सभी प्रोजेक्ट्स को मार्च से आगे 6 महीने तक मोहलत दी जाए।

 

COMMENT