वारिस पठान के बयान पर चौतरफा विरोध, ओवैसी ने भी लिया यह कड़ा एक्शन

Views : 861  |  3 minutes read

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता वारिस पठान के भड़काऊ बयान का देशभर में भारी विरोध हो रहा है और पठान के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी उठ रही है। इधर इस पार्टी के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी इस बयान पर नाराजगी जताकर पठान के मीडिया से बात करने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

पठान ने यह दिया था बयान

नागरिकता संशोधन कानून,एनआरसी के मामले पर वारिस पठान ने पिछले दिनों एक जनसभा में विवादित बयान देते हुए कहा था कि ”हम 15 करोड़ लोग ही 100 करोड़ लोगों पर भारी हैं और यह बात याद रख लेना।” इस बयान के बाद पठान की मीडिया व सोशल मीडिया में जमकर आलोचना होनी शुरू हो गई और पठान के खिलाफ पूरे देश में कार्रवाई की मांग प्रमुखता से होने लगी है।

स्वरा भास्कर ने भी लगाई इस तरह फटकार

इधर बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने भी इस विवादित बयान की कडी निंदा की है और ट्वीट कर कहा है कि’चचा बैठ जाओ और अगर आप कुछ फायदेमंद नहीं कह सकते हैं तो कुछ भी मत बोलो। बकवास, गैर जिम्मेदाराना व बेहद निंदनीय बयान है ऐसे बयान केवल आंदोलन को नुकसान ही पहुंचाएंगे। शर्म है।’

बयान से मचा बवाल

वारिस पठान के विवादित बयान से राजनैतिक बवाल सा मच गया है और अन्य प्रमुख पार्टियों के नेता भी ऐसे बयान पर विरोध करते हुए पठान से माफी मांगने की बात कह रहे हैं। हालांकि अपने इस बयान पर वारिस पठान ने सफाई दी है लेकिन माफी मांगने से इंकार कर दिया है। पठान ने कहा है कि उन्होंने किसी धर्म का नाम नहीं लिया है।

Read More: योगी और ओवैसी की जुबानी जंग के बीच हैदराबाद के इतिहास में बसे निजाम के बारे में जानिए

महाराष्ट्र व यूपी में भी हुई निंदा

पठान के भडकाउ बयान पर महाराष्ट्र में भी आलोचना हो रही है और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के नेता बाला नंदगांवकर ने वारिस के बयान पर विरोध जताया है। वहीं उत्तर प्रदेश से बीजेपी सांसद सत्यदेव पचौरी ने पठान के बयान पर ट्वीट कर लिखा है कि, ‘आओ कभी उत्तर प्रदेश में।’

 

COMMENT