सुशांत सिंह राजपूत मामले में एनसीबी ने एक्टर के कुक और हाउस हेल्पर को भेजा समन

Views : 805  |  3 minutes read
Sushant-Case-NCB-Summon

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को दुनिया से अलविदा कहे साल भर होने वाला है। हालांकि, अभी तक उनके मौत से जुड़े केस की जांच चल रही है। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस में आए दिन कुछ नया सामने आता रहता है। पिछले दिनों एनसीबी यानि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने अभिनेता के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी को गिरफ्तार किया था। अब एनसीबी ने एक्टर सुशांत के घर पर काम करने वाले एक कुक और एक हाउस हेल्पर को भी समन भेजकर फिर से पूछताछ के लिए बुलाया है।

आठ महीने से मुंबई से बाहर थे नीरज और केशव

जानकारी के अनुसार, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद सबसे पहले उनके कुक ने ही बताया था कि दिवंगत एक्टर नशीले पदार्थों का सेवन किया करते थे। इसी मामले में फिर से एनसीबी ने कुक नीरज और हाउस हेल्पर केशव को पूछताछ के लिए बुलाया है। बताया जा रहा है कि इस मामले की वजह से ही पिछले आठ महीने से नीरज और केशव दोनों ही एनसीबी से बचने के लिए मुंबई से बाहर थे। मुंबई लौटते ही दोनों अलग-अलग सेलिब्रिटी के यहां काम करने लगे थे। आपको बता दें कि सिद्धार्थ पिठानी को एनसीबी ने हैदराबाद से गिरफ्तार किया था और उसके बाद उन्हें पूछताछ के लिए मुंबई लाया गया। सिद्धार्थ को एक जून तक हिरासत में रखा जायेगा।

पिठानी की गिरफ्तारी पर पिता के वकील ने दी प्रतिक्रिया

सुशांत सिंह राजपूत के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी की गिरफ्तारी को लेकर अभिनेता के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, ‘सिद्धार्थ पिठानी कम से कम जेल तो पहुंच ही गए हैं।’ उन्होंने सीबीआई की जांच पर भरोसा जताते हुए कहा, ‘सीबीआई चार्जशीट दाखिल करने में जल्दबाजी नहीं करना चाहेगी। वे कई एंगल्स को देख रहे हैं, जिसमें से एक मर्डर भी शामिल है। एसएसआर की मौत अभी भी एक रहस्य है। जब तक आप रहस्य को नहीं सुलझाते हैं, तब तक आधी-अधूरी कहानी कहने का कोई मतलब नहीं है। यही कारण है कि वे अपना समय ले रहे हैं और मुझे पूरी उम्मीद है कि जल्द ही कुछ सामने आएगा।’

मालूम हो कि पिछले साल 14 जून को एक्टर सुशांत सिंह राजपूत अपने मुंबई स्थित फ्लैट में मृत पाए गए थे। इसके बाद अभिनेता के पिता ने उनकी गर्लफ्रेंड और एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती पर सुशांत सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाने और उनके पैसे हड़पने का आरोप लगाया था। इसके बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई थी। बाद में इस केस में ड्रग्स एंगल सामने आने के बाद एनसीबी ने भी अपनी जांच शुरू की थी।

मैक्सिको की एंड्रिया मेजा ने जीता ‘मिस यूनिवर्स-2020’ का खिताब, टॉप-5 में रही भारतीय सुंदरी

COMMENT