लोन मोराटोरियम अवधि 3 माह बढ़ाई, RBI गवर्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस की यह हैं खास बातें

Views : 628  |  3 minutes read

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसमें उन्होंने ईएमआई पर राहत दी है और लोेेेेेेेेेेेन मोराटोरियम की अवधि को भी 3 महीने और बढ़ा कर अब 31 अगस्त तक कर दिया है। जानिये, गवर्नर ने और क्या कहा।

सुस्त पड़ी अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए गवर्नर ने किये ये ऐलान

गौरतलब है कि देश में कोरोना संकट व लॉकडाउन की वजह से करीब 3 महीने से अर्थव्यवस्था सुस्त पड़ी है। इसे देखते हुए आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता की। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना संकट से वैश्विक अर्थव्यवस्था पर विपरीत असर पड़ा है और आम जन की आय भी प्रभावित हुई है इसलिए लोन मोराटोरियम अवधि को तीन महीने के लिए और 31 अगस्त तक बढ़ाया जा रहा है।

Read More: कोरोना असर: कर्ज देने में दिलचस्पी नहीं ले रहे बैंक, जानिये क्या है मामला

गवर्नर की यह तीसरी प्रेस कॉन्फ्रेंस

गौरतलब है कि देश में कोरोना संकट व जारी लॉकडाउन में आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को यह तीसरी बार प्रेस कॉन्फ्रेंस की है और इससे पहले दास 27 मार्च व 17 अप्रैल को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चुके थे जिसमें उन्होंने राहत उपायों की जानकारी दी थी।

रेपो रेट में 0.40 फीसदी की कटौती

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट में 0.40 फीसदी की कटौती का ऐलान कर राहत दी है। आरबीआई के इस निर्णय से लोगों की ईएमआई अब कम हो सकती है और रिवर्स रेपो रेट भी 3.75 फीसदी से घटाकर 3.35 फीसदी कर दी है।

COMMENT