जानिए 28 फरवरी को भारत में घटित महत्त्वपूर्ण ऐतिहासिक घटनाएं

Views : 1708  |  3 Minute read
28 feb Indian History

28 फरवरी का दिन भारतीय इतिहास में कई ऐतिहासिक घटनाओं के लिए जाना जाता है। इस दिन भारत में ‘राष्ट्रीय विज्ञान दिवस’ मनाया जाता है। वहीं कई स्वतंत्रता सेनानियों की जंयती और पुण्यतिथि इस दिन मनाई जाती है।

भारतीय इतिहास की महत्त्वपूर्ण घटनाएं-

मध्यकालीन भारत में मुगल बादशाह अकबर से फतेहपुर सीकरी में वर्ष 1580 में गोवा से पहला ईसाई मिशनरी मिलने आया।

‘वंदेमातरम’ को पहली बार वर्ष 1896 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में गाया गया।

वर्ष 1928 में सीवी रमन ने ‘रमन प्रभाव’ का आविष्कार किया था, बाद में इसके लिए उन्हें भौतिकी का नोबेल पुरुस्कार दिया गया।

1943- कोलकाता का हावड़ा पुल (रविन्द्र सेतु) शुरू हुआ।

2008 – वित्तमंत्री पी. चिदम्बरम ने आर्थिक समीक्षा संसद में पेश की।

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल टी.पी. राजेश्वर ने ‘वैट’ विधेयक को वर्ष 2008 में अपनी मंज़ूरी दी।

28 फरवरी को जन्में प्रमुख व्यक्तित्व

पंडित नरेंद्र शर्मा का जन्म 28 फरवरी, 1913 को हुआ था। वह हिन्दी के लेखक, कवि और गीतकार थे। उन्होंने हिंदी सिनेमा के लिए कुछ गीत भी लिखे, जैसे- सत्यम शिवम सुंदरम (वर्ष 1979) के लिए शीर्षक गीत, जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ गीतकार के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार नामांकन भी मिला।

भारतीय हिन्दी सिनेमा के प्रसिद्ध संगीतकार तथा गायक रवीन्द्र जैन का जन्म 1944 में हुआ।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, भारतीय राजनीतिज्ञ और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का जन्म 1947 में हुआ।

उत्तराखण्ड राज्य के सातवें मुख्यमंत्री रह चुके विजय बहुगुणा का जन्म 1947 मेंं हुआ।

वर्ष 1969 में कर्नाटक शास्त्रीय संगीत और संगीतकार उप्पलापू श्रीनिवास का जन्म, वह एक भारतीय मैंडोलिन वादक भी थे।

भारतीय एक्ट्रेस और राजनीतिज्ञ जयमाला का जन्म 1959 में कर्नाटक में हुआ।

28 फरवरी को हुए निधन

मेवाड के महाराणा उदयसिंह का वर्ष 1572 ई. में निधन हो गया।

भारतीय स्वतंत्रता सेनानी, विधिवेत्ता और देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद का वर्ष 1963 में निधन।

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु की पत्नी कमला नेहरु का टी. बी. से इलाज के दौरान स्विट्जरलैंड में 28 फरवरी को देहांत हो गया। उस समय टी. बी. एक खतरनाक बीमारी मानी जाती थी।

वर्ष 1904 में ब्रिटिश भारतीय सेना के अफ़सर जनरल सर आर्थर पावर पामर का निधन हुआ।

तमिलनाडु के कांचीपुरम नगर में स्थित कांची कामकोटिा पीठ के 69वें शंकाराचार्य जयेन्द्र सरस्वती का वर्ष 2018 में निधन हुआ था।

COMMENT