जानिए 29 फ़रवरी को घटित इतिहास

Views : 3259  |  3 Minute read
leap year

सौर मंडल में हमारा ग्रह पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा 365.242 दिन में पूरी करती है। जिसे एक वर्ष माना जाता है। इस परिक्रमा की वजह से मौसम परिर्वतन होता है। आम तौर पर हम 365 दिन ही एक वर्ष मानते हैं। बाकी शेष बचे 0.242 दिन (6 घंटे का समय) केा हर चौथे वर्ष में एक दिन जोड़ दिया जाता है। इस दिन को फरवरी महीने में जुड़ जाता है। फरवरी का महीना 28 की जगह 29 दिन का होता है और साल 366 दिन का होता है।

क्या है ​लीप वर्ष

लीप वर्ष वह माना जाता है जो वर्ष 4 से पूरी तरह विभाजित हो जाए, लेकिन सिर्फ वही शताब्‍दी वर्ष लीप ईयर होगा, जो 400 के अंक से पूरी तरह विभाजित हो जाए। इस हिसाब से साल 2000 लीप ईयर था, लेकिन 1900 लीप ईयर नहीं था। अगर हम इसे न मनाएं, तो हमें मौसम परिवर्तन के बारे में अत्यधिक ज्ञान हासिल नहीं हो पाएगा, क्योंकि हम कैलेंडर के हिसाब से हर वर्ष 6 घंटे आगे हो जाएंगे।

बता दें क लीप ईयर पर्व की शुरुआत जुलियस सीजर ने 46 ईसा पूर्व में की ​थी। ईसा पूर्व 46 में जूलियस सीजर द्वारा लाए गए जूलियन कैलेंडर में लीप वर्ष की व्यवस्था की गई थी। इस कैलेंडर का अंतिम महीना फरवरी होता था। जो सबसे छोटा महीना भी था इसलिए अतिरिक्त दिन फरवरी महीने में ही जोड़ा गया था। जूलियस सीजर ने मौसम को महीने से मिलाने की पूरी कोशिश की।

आधुनिक समय में पहली बार ब्रिटेन ने वर्ष 1752 में लीप ईयर मनाया। उस समय से लीप ईयर हर चार साल बाद मनाया जा रहा है।

29 फरवरी को घटित इतिहास की महत्त्वपूर्ण घटनाएं

डच वैज्ञानिकों ने ठोस हीलियम गैस का निर्माण वर्ष 1908 में किया।
हैती एमसीडेनिअल 1940 में ऑस्कर जीतने वाली पहली अश्वेत एक्ट्रेस बनीं।
वर्ष 2008 में प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ.बच्चन सिंह को अनुवाद के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार प्रदान किया गया।

29 फ़रवरी को जन्मे व्यक्ति

भ्रूणविज्ञानी कार्ल अर्नस्ट वॉन बेयर का जन्म वर्ष 1792 में हुआ, जिन्होंने वर्ष 1827 में स्तनधारियों के अण्डाणु की खोज की। उन्होंने ऊतकों की परतों से भ्रूण के विकास के बारे में बताया।
आयरिश मूल के अमेरिकी वैज्ञानिक जॉन फ़िलिप हॉलैण्ड का जन्म वर्ष 1840 में हुआ। जिन्हें आधुनिक पनडुब्बी का जनक माना जाता है। वर्ष 1898 में उन्होंने हॉलैण्ड नामक पानी के अंदर संचालित पहला अमेरिकी जलयान बनाया।
भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के सेनानी और भारत के छ्ठे प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई का वर्ष 1896 में जन्म हुआ।
भरतनाट्यम की प्रसिद्ध भारतीय नृत्यांगना रुक्मिणी देवी अरुंडेल का जन्म वर्ष 1904 में हुआ।
टीवी एक्ट्रेस जान्वी छेड़ा का जन्म 1984 में हुआ। वह सीआईडी में इंस्पेक्टर श्रेया का रोल में थी।

29 फ़रवरी को हुए निधन

हिंदी लोकप्रिय साहित्य के प्रसिद्ध लेखक कुशवाहा कान्त का निधन वर्ष 1952 में हुआ।
वर्ष 1744 में आज के दिन ही फ्रांस के प्राकृतिक दर्शनशास्त्री जॉन थियोफिलस डेजाग्युएलिये का निधन हुआ। वह रॉयल सोसायटी ऑफ लंदन के सदस्य थे।

COMMENT