22 साल पहले उधार लिए थे 200 रूपये, अब केन्या से मुंबई लौटाने आया यह शख्स !

Views : 3548  |  0 minutes read

किसी से पैसे उधार लेकर वापस देने के नाम पर मुकर जाने के किस्से आपने फिल्मों और असल जिंदगी में कई देखे होंगे लेकिन क्या आपने कभी ऐसा सुना कि कोई शख्स 22 साल बाद कर्ज के पैसे चुकाने हजारों किलोमीटर दूर एक देश से दूसरे देश आता है, वो भी सिर्फ दो सौ रुपये के लिए।

जी हां, आगे हम ऐसे ही शख्स के बारे में आपको बताने जा रहे हैं।

मामला औरंगाबाद का है जहां एक दिन अचानक केन्या के एक सांसद 70 साल के काशीनाथ गवली को ढ़ूंढ़ते हुए पहुंचे। किसी ने पूछा तो बताया कि 22 साल पहले लिए हुए उधार के 200 रुपए वापस देने आया हूं।

केन्या के न्यारीबारी छाछे से सांसद रिचर्ड न्यागाका टोंगी 22 साल पहले औरंगाबाद के एक कॉलेज में पढ़ाई किया करते थे। इस दौरान उन्हें पैसों की जरूरत थी, काशीनाथ गवली और उनका परिवार उस समय उनके पड़ोसी थे। टोंगी ने काशीनाथ से 200 रुपए उधार लिए जिन्हें वो उस समय चुका नहीं पाए थे।

22 साल बाद दरवाजे पर टोंगी को देख रो पड़े गवली…

टोंगी पढ़ाई कर केन्या चले गए और समय बीतने के साथ आज वो वहां सांसद हैं। अब जब वो 200 रूपये लेकर गवली के दरवाजे पहुंचे चो काशीनाथ गवली ने एक बार के लिए उन्हें नहीं पहचाना।

गवली कुछ बोलते इससे पहले टोंगी ने उन्हें पूरी कहानी बताई, यह सुन गवली खुद को रोने से रोक ना सकें। उन्हें अपनी आंखों पर यकीन नहीं हुआ।

टोंगी का कहना था कि मैं जब यहां रहता था तब मेरी आर्थिक हालत खराब होने पर गवली परिवार ने मेरी मदद की थी, उस समय मैं उधार लिए पैसे वापस नहीं कर पाया था, लेकिन मैंने उसी दिन सोच लिया था कि एक दिन वापस जरूर आऊंगा। अब मैं यहां आया हूं यह पल मेरे लिए बहुत भावुक है।

COMMENT