जॉब्स बदली है तो अपना PF ऐसे करें ऑनलाइन ट्रांसफर

Views : 2386  |  3 Minute read
pf transfer

प्राइवेट कंपनियों में काम करने वाले लोग अक्सर जॉब बदलते रहते हैं, जिसका कारण कुछ भी हो सकता है। ऐसे लोगों को अपने प्रोविडेंट फण्ड (पीएफ) को लेकर उलझन रहती है, क्योंकि जॉब बदलने के बाद ऐसे लोगों के पास दो विकल्प होते हैं। या तो वह अपना पीएफ निकलवा लें या फिर नई कंपनी में मिलने वाले पीएफ अकाउंट में उसे ट्रांसफर करवा लें।

जब कोई अपनी नौकरी बदलता है तो आपका नया एंप्लॉयर आपका नया ईपीएफ अकाउंट खोलता है, जबकि यूनिवर्सल अकाउंट नंबर पहले वाला ही होता है। ऐसे में पीएफ खाते को मैनेज करना आसान नहीं रहता है। हालांकि, डिजिटल के जमाने में इसे आसान बना दिया गया है। EPFO (Employee’s Provident Fund Organisation) की आधिकारिक वेबसाइट के जरिए पीएफ खाते को आसानी मैनेज किया जा सकता है।

ईपीएफओ ने पिछले साल से पीएफ बैलेंस ट्रांसफर करने और निकालने के लिए ऑनलाइन सर्विस शुरु की है। बता दें कि केंद्र सरकार ने वर्ष 1952 में ईपीएफ योजना शुरू की थी, जिसमें एंप्लॉई और एंप्लॉयर को नियमित तौर पर अंशदान करना पड़ता है। योजना के अंतर्गत सरकार कुछ कंपनियों को अपना पीएफ ट्रस्ट गठित करने और उसका प्रबंधन करने की अनुमति देती है।

तो आइए जानते हैं आप घर बैठे अपने पुराने एंप्लॉयी से नए एंप्लॉयी के पास पीएफ बैलेंस को कैसे ऑनलाइन ट्रांसफर कर सकते हैं।

इन चरणों को करें फोलो

सबसे पहले EPFO की वेबसाइट पर लॉगिन करें, जिसके लिए आप सबसे पहले अपना यूएएन नंबर और पासवर्ड की सहायता से अकाउंट को लॉगिन करें।

लॉगिन के बाद वेबसाइट के होम पेज पर ‘ऑनलाइन सर्विसेज’ ऑप्शन पर जाएं। ड्रॉप डाउन मैन्यू से ‘वन मेंबर-वन ईपीएफ अकाउंट ट्रांसफर रिक्वेस्ट’ पर क्लिक करें।

ट्रांसफर रिक्वेस्ट पर क्लिक करने के साथ ही एक पेज खुलेगा। इसमें आपको आपकी डिटेल्स दिखेंगी। जैस पीएफ नंबर, जन्मतिथि और डेट ऑफ ज्वाइनिंग संबंधी सभी जानकारी ठीक से जांच लें।

इसके साथ ही आपके सामने दो ऑप्शन आएंगे। पहला प्रीवियस एम्प्लॉयर और दूसरा प्रजेंट एम्प्लॉयर। इन दोनों में से किसी एक को सलेक्ट करें। यदि आपने Previous Employer को चुना तो आपको इससे जुड़ी सारी जानकारी इसमें भरनी होगी।

सारी जानकारी भरने के बाद इसे सबमिट कर दें। इसके बाद आपके रिजस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा। इन ओटीपी को आप इसमें भरेंगे वैसे ही आपकी रिक्वेस्ट सबमिट हो जाएगी। फिर आपको एक ऑनलाइन फॉर्म आएगा। इस फार्म को भरें और इसे प्रजेंट एंप्लॉयर या फिर प्रीवियर एंप्लॉयर को भेज दें।

आपके जो पूर्व नियोक्ता (एंप्लॉयर) है उन्हें भी ऑनलाइन रिक्वेस्ट का एक नोटिफिकेशन मिलेगा। वह आपकी सारी जानकारी की जांच करेंगे और एंप्लॉयर आपके इस क्लेम को ऑनलाइन ही ईपीएफओ के ऑफिस को फॉरवर्ड कर देगा।

यही नहीं आप अपने क्लेम को ट्रेक भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको Online service में जाना होगा और फिर ट्रेक क्लेम स्टेट्स पर क्लिक करना होगा। इतने करने के बाद आप आसानी से अपने क्लेम का स्टेट्स देख सकते हैं।

COMMENT