कोरोना टीका के लिए 18 से 44 साल की उम्र के लोगों का पंजीकरण करवाना अनिवार्य

Views : 822  |  3 minutes read
Corona-Vaccination-India

देशभर में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के बीच राहत की खबर ये है कि भारत में तीसरे चरण का कोविड टीकाकरण अभियान एक मई से शुरू होने जा रहा है। इसके तहत 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोग कोरोना का टीका लगवाने के लिए पात्र हो जाएंगे। हालांकि, केंद्र सरकार ने तीसरे चरण में नए सिरे से टीकाकरण पर जोर देते हुए राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के लिए कुछ नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। नए निर्देश में कहा गया है कि एक मई से शुरू होने वाले टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीकरण ही मान्य होगा। इसके अलावा सभी राज्याें और केंद्र शासित प्रदेशों काे टीकाकरण केंद्रों के रूप में अस्पताल निर्धारित करने काे कहा गया है।

टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ को नियंत्रित के इंतजाम हों

बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सभी राज्यों के अधिकारियों की बैठक ली, जिसमें कोरोना टीकाकरण के अगले चरण से संबंधित जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए गए। इस बैठक के बाद केंद्र सरकार ने राज्यों को एडवाइजरी जारी कर कहा है कि कोरोना वैक्सीनेशन का यह चरण शुरू करने से पहले वह ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट सेंटर्स का रजिस्ट्रेशन करवाएं। साथ ही टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए इंतजाम किए जाएं।

वैक्सीनेशन से जुड़ी कुछ जरूरी बातें..

1. सभी सरकारी और निजी कोरोना टीकाकरण केंद्रों का कोविन पर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य।
2. सेंटर्स को कोविन पर वैक्सीन के प्रकार, स्टॉक और कीमत की जानकारी देनी होगी।
3. सभी टीकाकरण केंद्रों को वैक्सीनेशन का रिकॉर्ड रखना होगा।
4. सभी टीकाकरण केंद्रों को डिजिटल वैक्सीनेशन प्रमाणपत्र जारी करना होगा।
5. टीकाकरण के लिए पर्याप्त स्थान और वेटिंग एरिया हो।
6. कोविड केयर सेंटर्स पर पर्याप्त कोल्ड चैन उपकरण हो।
7. टीका लगाने वाले प्रशिक्षित लोगों की संख्या पर्याप्त हो।
8. निजी अस्पताल और औद्योगिक इकाइयां अपने वैक्सीनेशन सेंटर्स के लिए डोज सीधे वैक्सीन निर्माता से खरीद सकती हैं।

कोविन व आरोग्य सेतु पर 28 अप्रैल से शुरू होगा रजिस्ट्रेशन

1. टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल व आरोग्य सेतु ऐप पर 28 अप्रैल से पंजीकरण शुरू हो जाएगा।
2. 18 से 44 साल की उम्र के लोगों के लिए कोविन वेब पोर्टल पर पंजीकरण कराना और टीकाकरण के लिए समय लेना अनिवार्य।
3. शुरुआत में टीकाकरण केंद्र पर पंजीकरण कराने की अनुमति नहीं है।
4. कोरोना टीका निर्माताओं ने पहले ही अपने टीकों के दाम घोषित कर दिए हैं। एक मई से वे इसके अनुसार टीका मुहैया कराएंगे।
5. 45 से अधिक उम्र के लोगों को पहले की ही तरह टीकाकरण केंद्र पर पंजीकरण कराने की सुविधा दी जाएगी।
6. पंजीकरण के लिए कोई भी फोटो आधारित दस्तावेज दिया जा सकता है, जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, बैंक/डाकघर द्वारा जारी पासबुक, पासपोर्ट, केंद्रीय/राज्य सरकार/ सार्वजनिक कंपनियों द्वारा दिए गए कर्मचारी पहचान पत्र।

7. राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के तहत रजिस्ट्रार जनरल एंड सेंसस कमिश्नर ऑफ इंडिया (RGI) की तरफ से जारी किया गया स्मार्ट कार्ड और मनरेगा जॉब कार्ड का इस्तेमाल किया जा सकता है।
8. रजिस्ट्रेशन के लिए लोग श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड और तस्वीर के साथ पेंशन दस्तावेज का इस्तेमाल कर सकते हैं।
9. इसके अलावा सांसदों/विधायकों/एमएलसी से जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र के जरिये भी कोरोना टीकाकरण के लिए पंजीकरण कराया जा सकता है।

Read: विदेश से कोरोना वैक्सीन नहीं खरीदेगी केंद्र सरकार, राज्यों पर छोड़ा आयात का फैसला

COMMENT