भारत ने एंटी मिसाइल नाग का किया सफल परीक्षण, पाकिस्तान के पास इसका कोई तोड़ नहीं

Views : 2700  |  0 minutes read
chaltapurza.com

भारत रक्षा क्षेत्र में दिन-ब-दिन तेजी से प्रोग्रेस कर रहा है। इस मामले में वह पिछले कुछ वर्षों में कई बड़ी उपलब्धि अपने नाम कर चुका है। दुश्मन मुल्क चीन और पाकिस्तान के किसी भी हमले का जवाब देने के लिए भारत अपने मित्र देश इजराइल की तर्ज पर लगातार खुद को सक्षम बनाने की दिशा में काम रहा है। हाल में भारत ने पोखरण फायरिंग रेंज में स्वदेशी एंटी मिसाइल नाग का सफल किया। जानकारी के मुताबिक़, स्वदेशी एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का तीन बार सफल परीक्षण किया गया है।

chaltapurza.com

दुश्मन देश पाकिस्तान के पसीने छुड़ा देगी नाग

भारत में डिजाइन एवं निर्मित एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग दुश्मन पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के पसीना छुड़ाने के लिए काफी है। पाकिस्तान के पास इसका कोई जवाब नहीं है। बताया जा रहा है कि इस एंटी मिसाइल के परीक्षण के दौरान दिन और रात के समय में टेस्ट लॉन्च किया गया जो पूरी तरह से सफल रहा। स्वदेशी एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग पाकिस्तानी टैंकों को आसानी से अपना टारगेट बनाने में सक्षम है।

chaltapurza.com
तीसरी पीढ़ी की एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल है नाग

भारतीय रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा विकसित एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल नाग का रविवार को राजस्थान के पोखरण में सफल परीक्षण किया गया। उल्लेखनीय है कि नाग मिसाइल तीसरी पीढ़ी की एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल है। इसकी ख़ासियत है कि यह मिसाइल दिन और रात दोनों समय में दुश्मन के टैंकों को नष्ट करने की क्षमता रखती है। यह तय है कि इस मिसाइल से भारतीय सेना को काफी मदद मिलेगी।

Read More: चोर खुद वापस लौटाएगा चोरी किया हुआ मोबाइल फोन, इसकी वजह जान लीजिए

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारतीय मिसाइल नाग उन पांच मिसाइलों में से एक है, जिसे वर्ष 1980 के दशक में शुरू किए गए एकीकृत मिसाइल विकास कार्यक्रम के तहत विकसित करने की योजना थी। इसके प्रोजेक्ट के तहत विकसित अन्य मिसाइल अग्नि, पृथ्वी और आकाश हैं। इन तीनों मिसाइलों को सफलतापूर्वक विकसित करने के बाद पहले ही सशस्त्र बलों में शामिल कर लिया गया है।

COMMENT