मुझे नहीं लगता तीसरा या चौथा मोर्चा भाजपा को टक्कर दे सकता है: प्रशांत किशोर

Views : 1468  |  3 minutes read
Election-Strategist-Prashant-Kishore

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी यानि एनसीपी के प्रमुख शरद पवार से 15 दिनों के भीतर दो बार मुलाकात करने को लेकर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के तीसरा मोर्चा बनाने की अटकलें जारी हैं। हालांकि, इस बीच अब प्रशांत किशोर ने कहा है कि उन्हें नहीं लगता कि तीसरा या चौथा मोर्चा भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को टक्कर दे सकता है। उन्होंने साल 2024 में 18वीं लोकसभा के लिए होने वाले चुनाव के लिए विपक्षी मोर्चे में अपनी भूमिका से भी इनकार किया है। एक चैनल से बात करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि मौजूदा राजनीतिक हालातों में तीसरे मोर्चे की कोई भूमिका नहीं है। उनका ये बयान ऐसे समय में आया है, जब शरद पवार से उनकी मुलाकात को तीसरे मोर्चे की एकजुटता के तौर पर देखा जा रहा था।

11 जून को भी हुई थी पवार-प्रशांत की मीटिंग

आपको जानकारी के लिए बता दें कि देश के प्रमुख चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और एनसीपी प्रमुख शरद पवार के बीच सोमवार को एक बार फिर मुलाकात हुई थी। इससे पहले पवार के मुंबई स्थित आवास पर 11 जून को भी इन दोनों की मीटिंग हो चुकी थी। सोमवार की मुलाकात के कुछ देर बाद ही शरद पवार ने मंगलवार दोपहर 4 बजे राष्ट्र मंच की बैठक का ऐलान किया था। मालूम हो राष्ट्र मंच वह संगठन है, जिसे कभी भारतीय जनता पार्टी के नेता रहे और पूर्व मंत्री यशवंत सिन्हा ने 30 जनवरी, 2018 को मोदी सरकार के खिलाफ बनाया था।

कोविड महामारी के बाद विपक्ष की पहली बैठक

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बाद मंगलवार को पहली बार विपक्षी पार्टियों के नेता वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की बजाय एक जगह इकट्ठा होकर बैठक करेंगे। राष्ट्र मंच के बैनर तले हो रही बैठक में 15 दलों के नेताओं के शामिल होने की संभावना हैं। राष्ट्र मंच की बैठक में एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार पहली बार हिस्सा लेने वाले हैं। बता दें, फिलहाल ये मंच राजनीतिक मोर्चा नहीं है, लेकिन भविष्य में इसके तीसरा मोर्चा बनने की किसी संभावना से भी इनकार नहीं किया जा सकता।

Read More: कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 24 जून को बुलाई वरिष्ठ नेताओं की बैठक

COMMENT