हार्दिक पटेल ने कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से दिया इस्तीफा, बताया पार्टी छोड़ने का कारण

Views : 647  |  3 minutes read
Hardik-Patel-Resignation

कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने बुधवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता समेत सभी पदों से अपना इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे गए त्याग-पत्र को तीन भाषाओं हिंदी, अंग्रेजी और गुजराती में ट्विटर पर पोस्ट कर यह जानकारी दीं। इसके अनुसार, हार्दिक ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। अपने इस्तीफे में उन्होंने कांग्रेस पर गुजरात विरोधी सोच होने का आरोप लगाया और दावा किया कि कांग्रेस सिर्फ विरोध की राजनीति कर रही है और खुद को एक विकल्प के तौर पर पेश करने में असफल रही है।

अब राज्य के लिए सकारात्मक रूप से कार्य कर पाऊंगा

हार्दिक पटेल ने कहा, “आज मैं हिम्मत करके कांग्रेस पार्टी की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष पद और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देता हूं। मुझे विश्वास है कि मेरे इस निर्णय का स्वागत मेरा हर साथी और गुजरात की जनता करेगी।” हार्दिक ने कहा, “मैं मानता हूं कि मेरे इस कदम के बाद मैं भविष्य में गुजरात के लिए सच में सकारात्मक रूप से कार्य कर पाऊँगा।”

उन्होंने अपने त्याग-पत्र में कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि कई प्रयासों के बाद भी पार्टी राष्ट्रहित में और समाज के लिए कार्य करने में विफल रही। राम मंदिर, अनुच्छेद 370, सीएए-एनआरसी और जीएसटी लागू करने जैसे मुद्दों पर कांग्रेस अड़ी हुई थी। ये सभी लोगों की आकांक्षाएं और समय की मांग थीं, जिसके लिए कांग्रेस को सकारात्मक भूमिका निभानी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

जल्द ही भारतीय जनता पार्टी में ले सकते हैं एंट्री

उधर, कांग्रेस का कहना है कि उन्हें हार्दिक पटेल का कोई इस्तीफा नहीं मिला है। कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा कि पार्टी नेताओं ने सोशल मीडिया और मीडिया के माध्यम से यह सुना है कि उन्होंने इस्तीफा दे दिया है। आपको बता दें कि हार्दिक पटेल के कांग्रेस से इस्तीफे के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि वह जल्द ही गुजरात चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हो सकते हैं। मालूम हो कि पिछले दिनों राजस्थान में हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय चिंतन शिविर में भी हार्दिक नहीं पहुंचे थे, जबकि उनको शिविर में आने के लिए पत्र भेजा गया था।

कांग्रेस ने जाखड़ और केवी थॉमस को सभी पदों से हटाया, 5 पार्टी विधायकों को किया निलंबित

COMMENT