कोरोना: इस राजा ने जर्मनी जाकर होटल में खुद को किया आइसोलेट, गुस्से में लोग

Views : 929  |  3 minutes read

पूरी दुनिया में जहां हर देश में कोरोना महामारी से जनता परेशान होकर जूझ रही है और देशों के प्रमुख अपने देश की जनता को बचाने में दिन रात हर प्रयास में लगे हुए हैं। वहीं थाईलैंड देश के राजा अपने देश की जनता को इस संकट में अकेला छोड कर कुछ महिलाओं के साथ जर्मनी के लिए रवाना हो गए और वहां एक लग्जरी होटल में कुछ दिन स्वयं को आईसोलेशन में कैद कर लिया है। इधर राजा के इस फैसले से थाइलैंड देश की जनता बहुत गुस्से में है और सोशल मीडिया पर अपना गुस्सा उतार रही है। जानिये क्या है पूरा मामला-

जर्मनी में एक आलीशान होटल में सभी कमरों को करवाया बुक

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक थाईलैंड के राजा महा वाजिरा लोंगकोर्न उर्फ राम दशम कुछ दिनों पहले ही कोरोना वायरस संकट से जूझती थाइलैंड देश की जनता को अकेला छोड़ जर्मनी चले गए हैं। बताया जा रहा है कि राजा ने दक्षिणी जर्मनी में एक आलीशान होटल में सभी कमरों को बुक करा लिया है और इस दौरान वह स्वयं आइसोलेसन में रहेंगे व साथ में लाई करीब 20 महिलाएं होटल में बने हरम में रहेंगी। राजा के साथ होटल में उनके कई नौकर भी रहेंगे। हालांकि कोरोना भय के चलते राजा ने अपने परिवार के कई लोगों को वापस थाईलैंड भेज दिया है।

सोशल मीडिया पर उतरा जनता का गुस्सा, हो रहा हैशटैग भी ट्रेंड

इधर थाइलैंड देश की जनता राजा के इस निर्णय से बहुत गुस्से में है और सोशल मीडिया पर देश के लोग राजा की आलोचना कर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि कोरोना संकट के समय जिम्मेदारी निभाने के बजाय राजा का दूसरे देश जाकर आइसोलेट होना बहुत गलत है। हाालांकि थाईलैंड में देश के राजा की आलोचना,अपमान करने पर सजा का प्रावधान है लेकिन लोग गुस्से में है और सोशल मीडिया पर हमें राजा की क्या जरुरत हैशटैग भी ट्रेंड कर रहा है।

Read More: कम पैसे में विदेश जाकर घूमने की जगह है थाइलैंड, जानें बजट

गौरतलब है कि थाईलैंड के राजा महावजिरा लॉन्गकोर्न की उम्र लगभग 67 साल है और वह करीब 4 साल पहले अपने पिता की मौत के बाद गद्दी पर बैठे हुए हैं। हाल ही कुछ महीनों पहले राजा ने अपनी चौथी शादी अपनी सुरक्षा में कार्यरत एक कमांडर से की थी।

 

COMMENT