कोरोना से खुशियों पर ग्रहण, राजस्थान में आखातीज पर इतनी हजार शादियां स्थगित

Views : 977  |  3 minutes read

भारतीय संस्कृति में अक्षय तृतीया को सबसे बड़ा शुभ मुहूर्त माना जाता है और इस दिन बिना ज्योतिषी या पंडित के पूछे कोई भी मांगलिक कार्य किया जा सकता है। राजस्थान में इस दिन को अबूझ सावा मुहूर्त मान कर हर साल कई शादियां धूमधाम से होती है लेकिन इस बार इस मौसम पर कोरोना का ग्रहण लगा हुआ है और करीब 20 हजार से ज्यादा शादियां टाल दी गई हैं।

राजस्थान में स्थगित हुई इतनी शादियां

जानकारी के मुताबिक कोरोना संकट व लॉकडाउन की वजह से राजस्थान में रविवार को अक्षय तृतीया पर होने वाली करीब 25 हजार शादियां स्थगित कर दी गई हैं। इस दौरान 10 हजार से ज्यादा मैरिज होम में शादी की बुकिंग भी कैंसिल कर दी गई हैं और शादी से जुडी अन्य बुकिंग्स भी रद्द कर दी गई हैं।

Read More: लॉकडाउन में बच्चे हुए चिड़चिड़े व बदलने लगा व्यवहार, इस तरह समझाएं

शादियां स्थगित होने से करोड़ों रुपये का नुकसान

एक अनुमान के अनुसार आखातीज पर करीब 25 हजार शादियां अचानक कैंसिल होने पर इस काम से जुडे लोगों को करोड़ों रुपये का आर्थिक नुकसान हुआ है जिससे इस तरह के आयोजन करवाने वाली कई इंवेंट कंपनियों की भी कमर तोड टूट चुकी है।

जयपुर में लगभग 8 हजार विवाह टले

‘ऑल इंडिया टेंट डीलर्स वेलफेयर एसोसिएशन’ के पदाधिकारियों के अनुसार राजस्थान में कोरोना कहर की वजह से लगभग 25 हजार शादियां टाल दी गई हैं और जयपुर जिले में भी लगभग 8 हजार शादियां नहीं हो पाई हैं।

COMMENT