असम में गरजे अमित शाह, बोले- यहां केवल पर्यटन के लिए आते हैं कांग्रेस पार्टी के नेता

Views : 886  |  3 minutes read
Assam-Election-2021

पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सभी प्रमुख राजनीतिक दलों ने जीतने के लिए पूरा जोर लगा रखा है। चुनाव प्रचार और रैलियों के ​दौरान सभी पार्टियों के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा नेता अमित शाह ने शुक्रवार को पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में वोट के लिए असम के सिलचर में रैली को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि हमने भारत के आजादी के 75 साल पूरे करने के मौके पर प्रदेश के 2 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने और 8 लाख युवाओं को प्राइवेट जॉब सुनिश्चित करने का फैसला किया है। शाह ने कहा कि हमने चाय बागानों के श्रमिकों के दैनिक वेतन को बढ़ाकर 350 रुपये प्रतिदिन करने का निर्णय लिया है।

हमने पांच साल में असम को आंदोलन मुक्त बना दिया

अमित शाह ने कहा कि हमने असम को आंदोलन मुक्त बना दिया। पिछले 5 साल में असम में कोई बड़ा आंदोलन हुआ है क्या? आतंकवाद समाप्त हुआ है। 2000 से ज्यादा आतंकवादियों ने मुख्यधारा में आना पसंद किया है। असम विकास के रास्ते पर आगे बढ़ चुका है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के 2 नेता ये भाई-बहन असम में पर्यटन के लिए आते हैं। राहुल बाबा को देखा है या नहीं? अभी चाय बागान में पत्ती नहीं बैठी हैं और प्रियंका जी पत्ती तोड़ने के लिए फोटो सेशन करा रही हैं। प्रियंका गांधी असम में जाती है तो गमछे पर ‘नो सीएए’ लिखती हैं और यहां आती हैं तो गमछा साफ-सुथरा हो जाता है।

शाह ने कहा कि मैं आश्वस्त करता हूं कि जो शरणार्थी यहां आए हैं उन्हें नागरिकता मिलेगी और घुसपैठियों को निकालने का काम होगा। राहुल गांधी का कहना है कि बदरुद्दीन अजमल असम का प्रतीक है। अगर असम में बदरुद्दीन अजमल और कांग्रेस की सरकार बनती है, तो दोबारा घुसपैठिए असम के युवाओं का रोजगार छीनना शुरू कर देंगे।

अमल करने के लिए है भाजपा का घोषणा पत्र

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने हमेशा से असम के गौरव को बढ़ाने का काम किया। अटल जी की सरकार थी तब लोकप्रिय गोपीनाथ जी का सम्मान किया। नरेंद्र मोदी जी की सरकार आई हमने भूपेन हाजरिका का सम्मान किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का घोषणा पत्र चुनाव प्रचार के लिए होता है और भाजपा का घोषणा पत्र अमल करने के लिए होता है। हमने तय किया है आठवीं कक्षा के बाद सभी बेटियों को साइकिल दी जाएगी। कॉलेज जाने वाली सभी बेटियों को स्कूटी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि शाह ने कहा कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत नरेंद्र मोदी जी जो 6000 रुपये भेजते हैं, उसमें असम सरकार 2000 रुपये और जोड़कर कुल 8000 रुपये सालाना किसानों को देगी। चाय बागान श्रमिकों की मजदूरी को 350 रुपये तक बढ़ाई जाएगी।

‘लव जिहाद’ और ‘लैंड जिहाद’ के खिलाफ कानून बनाएंगे

भाजपा के शीर्ष नेताओं में से एक अमित शाह ने कहा कि भाजपा के संकल्प पत्र में ढेर सारी बाते हैं, मगर सबसे बड़ी बात ‘लव जिहाद’ और ‘लैंड जिहाद’ के खिलाफ कानून लाने का काम हमारी सरकार करेगी। गृहमंत्री ने कहा कि भाजपा ने असम को आंदोलन मुक्त और आतंकवाद मुक्त बनाया है। हम असम को रोजगार युक्त व बाढ़ मुक्त बनाएंगे। असम को एक विकसित राज्य बनाने का काम भाजपा सरकार करेगी। केंद्रीय मंत्री शाह ने कहा कि यहां घुसपैठियों को रोकने का काम बदरुद्दीन अजमल सरकार नहीं कर सकती है। असम में घुसपैठियों को रोकने का काम केवल और केवल भाजपा की सरकार कर सकती है। मैं आज कह कर जाता हूं कि कांग्रेस कितना भी जोर लगा दे, बदरुद्दीन अजमल को असम की पहचान नहीं बनने देंगे।

Read More: बीजेपी ने छह राज्यों में उपचुनावों के लिए 9 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी की

COMMENT