केंद्र सरकार ने डायग्नोस्टिक किट के निर्यात पर लगायी पाबंदी

Views : 723  |  3 minutes read
Diagnostic-Kits-Ban

भारत में कोराना वायरस महामारी के लगातार बढ़ते प्रकोप को देखते हुए केंद्र सरकार ने डायग्नोस्टिक किट्स के निर्यात पर रोक लगा दी। इन किट्स के निर्यात को हतोत्साहित करने की दृष्टि से सरकार ने शनिवार को यह कदम उठाया है। डायरेक्टरेट जनरल ऑफ फॉरेन ट्रेड की ओर से जारी एक नोटिफिकेशन में कहा गया है, ‘डायग्नोस्टिक किट्स के निर्यात पर तत्काल प्रभाव से रोक लगायी जा रही है।’

पहले नहीं थी ऐसे उत्पादों के निर्यात पर रोक

केंद्र सरकार के इस कदम से कोविड-19 संकट से मुकाबले में मदद मिल सकेगी। दरअसल, अधिक से अधिक कोरोना मरीजों की टेस्टिंग के लिए इन किट्स की जरूरत है। कोरोना मरीजों की लगातार दो बार निगेटिव रिपोर्ट आने तक उनका हर 48 घंटे में टेस्ट किया जाता है।

Read More: इतने करोड़ रुपए कमाने वाले पहले फुटबॉलर बन सकते हैं क्रिस्टियानो रोनाल्डो

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले डायग्नोस्टिक किट्स जैसे उत्पादों के निर्यात पर किसी तरह की कोई पाबंदी नहीं थी। लेकिन इन उत्पादों को प्रतिबंधित वस्तुओं में शामिल किए जाने का मतलब है कि अब निर्यातकों की ऐसे उत्पादों को किसी दूसरे देश को भेजने से पहले डीजीएफटी से लाइसेंस प्राप्त करना होगा। माना जा रहा है कि जब तक कोरोना पर कंट्रोल नहीं हो जाता, तब तक डायग्नोस्टिक किट्स के निर्यात पर पांबदी रह सकती है।

COMMENT