बॉलीवुड की वेटरन एक्ट्रेस कुमकुम का 86 साल की उम्र में निधन

Views : 840  |  3 minutes read
Veteran-actress-kumkum

कोरोना काल में अब भारतीय सिनेमा जगत की एक और शख्सियत ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। बॉलीवुड वरिष्ठ अभिनेत्री कुमकुम का 86 साल की उम्र में निधन हो गया है। लंबे समय से बीमार कुमकुम का खराब स्वास्थ्य की वजह से निधन हुआ। आपको बता दें कि मुंबई में लिकिंग रोड पर कभी उनके बंगले का नाम ही ‘कुमकुम’ हुआ करता था। हालांकि, बाद में उस बंगले को तोड़कर बिल्डिंग बना दी गई। एक्ट्रेस कुमकुम का जन्म 22 अप्रैल, 1934 को बिहार के शेखपुरा जिले में हुआ। बॉलीवुड की इस अभिनेत्री का असली नाम ज़ैबुनिस्सा था।उनके पिता हुसैनाबाद रियासत (अब झारखंड में) के नवाब हुआ करते थे।

फिल्म ‘आर-पार’ के गाने से शुरू हुआ अभिनय कॅरियर

हिंदी फिल्मों की अभिनेत्री कुमकुम को गुरु दत्त साहब की खोज मानी जाती हैं। गुरु दत्त को अपनी फिल्म ‘आर-पार’ (1954) के गाने ‘कभी आर कभी पार लागा तीरे नजर’ का फिल्मांकन एक्टर जगदीप पर करना था। लेकिन बाद में उन्हें लगा कि इसे किसी महिला पर फिल्माना चाहिए। उस समय कोई भी इतना छोटा ​गाना करने के लिए सहमत नहीं हुआ। तब आखिरकार गुरु दत्त ने कुमकुम पर इस गीत का फिल्मांकन किया। बाद में गुरु दत्त ने अपनी फिल्म ‘प्यासा’ (1957) में भी उन्हें छोटा रोल दिया था।

Read More: बॉलीवुड के एक्शन डायरेक्टर परवेज खान का 55 साल की उम्र में निधन

20 साल में कॅरियर में करीब 115 फिल्मों में किया अभिनय

अभिनेत्री कुमकुम ने अपने फिल्मी कॅरियर में लगभग 115 फिल्मों में अभिनय किया। इसमें ‘मिर्जा गालिब’ (1954), ‘नया दौर’, ‘मदर इंडिया’ (1957), ‘उजाला’ (1959), ‘कोहिनूर’ (1960), ‘सन ऑफ इंडिया’ (1962), ‘मिस्टर X इन बॉम्बे’ (1964), ‘श्रीमान फंटूश’ (1965), ‘राजा और रंक’, ‘गुनाह और खून’, ‘आन बान’, ‘ललकार’ जैसी कई शानदार फिल्में शामिल हैं। कुमकुम ने अपने दौर के कई बड़े स्टार्स के साथ काम कर किया, जिनमें किशोर कुमार और गुरु दत्त का नाम प्रमुख हैं। गौरतलब है कि बॉलीवुड अदाकारा कुमकुम ने भोजपुरी फिल्म ‘गंगा मैया तोहे पियारी चढ़ाईबो’ (1963) में भी अभिनय किया था।

COMMENT